राष्ट्रपति शासन पर कांग्रेस बोली, केंद्र ने अनुच्‍छेद 356 का दुरुपयोग किया

0

उत्तराखंडनई दिल्ली। संसद का बजट सत्र आज से शुरू हो चुका है। लेकिन उत्‍तराखंड में राष्‍ट्रपति शासन लगाए जाने के केंद्र सरकार के फैसले पर संसद में भयंकर हंगामा चल रहा है। कांग्रेस ने संसद की शुरुआत होते ही हंगामा काटना शुरू कर दिया। इसके चलते राज्‍यसभा की कार्यवाही को 12 बजे तक के लिए स्‍थगित करना पड़ा। वहीं 12 बजे के बाद फिर से कार्यवाही शुरु हो चुकी है। उत्‍तराखंड मामले पर कांग्रेस के साथ कई अन्‍य पार्टियां भी साथ खड़ी हैं।

उत्तराखंड पर संसद में होगी बहस!

दरअसल कांग्रेस उत्‍तराखंड मामले पर संसद में चर्चा चाहती थी। लेकिन इसकी इजाजत नहीं मिलने के बाद कांग्रेस के साथ पूरे विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया। कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर अनुच्‍छेद 356 के दुरुपयोग के आरोप लगाए हैं।

सत्र शुरू होने से ठीक एक दिन पहले लोकसभा स्‍पीकर ने सर्वदलीय बैठक की थी, इस बैठक से ही साफ हो गया था कि सत्र शांतिपूर्वक चलने के कोई आसार नहीं हैं। इस मामले पर आरजेडी, एनसीपी, जेडीयू, लेफ्ट भी कांग्रेस के साथ हैं। बैठक में इन सभी पार्टियों ने स्‍पीकर से मांग की है कि सबसे पहले उत्तराखंड में लगे राष्‍ट्रपति शासन पर चर्चा होनी चाहिए। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि एक तरफ संविधान और उसके निर्माता अंबेडकर की 125वीं जयंती मनी और दूसरी तरफ अरुणाचल के बाद उत्तराखंड में लोकतंत्र की हत्या की गई, हम सभी काम रोककर इस मामले पर सदन में चर्चा चाहते हैं।

बैठक के बाद सरकार की तरफ से संसदीय कार्य राज्यमंत्री राजीव प्रताप रूडी ने साफ कहा कि, फैसला तो स्पीकर करेंगी, लेकिन उत्तराखंड का मामला फिलहाल अदालत में चल रहा है, 27 अप्रैल को सुनवाई है, इसलिए फिलहाल इस मसले पर चर्चा कराना सही नहीं होगा। सरकार के इस बयान के बाद स्पीकर ने भी साफ कहा कि मामला अदालत में चल रहा है, ऐसे में चर्चा कराना संभव नहीं है।

loading...
शेयर करें