‘सुकून’ की तलाश में पांडवखोली पहुंची उमा भारती

0

द्वाराहाट। केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती सोमवार को पौराणिक द्वारका की द्रोणीगिरि पर्वत श्रंखला में मौजूद पांडवखोली पहुंची। उमा के इस दौरे को गुप्त रखा गया है। यहां उमा कुकुछिना की ऊपरी पहाड़ी पांडवखोली में ध्यान लगाएंगी। इस दौरान सुरक्षाकर्मियों के अलावा स्टॉफ को ही आने-जाने की परमिशन होगी।

उमा भारती

उमा भारती की क्षत्र में मौजूदगी से महत्वपूर्ण योजना शुरू होने के कयास

खबरों के मुताबिक, इससे पहले भी इसी साल फरवरी में उमा भारती कुकुछिना पहुंची थी, जिसके बाद उन्होंने यहां पर ध्यान लगाया था। एक बार फिर 3 महीने बाद उमा यहां आई हैं। आध्यात्मिक पौराणिक दूनागिरि एवं पांडवखोली की पहाड़ी में केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती तीसरी बार यहां अध्यात्म की खोज में पहुंची हैं।

इस क्षेत्र में उनकी बढ़ती मौजूदगी से दुनागिरि क्षेत्र में किसी महत्वपूर्ण योजना की शुरुआत होने के भी कयास लगाए जा रहे हैं। इसी कारण ध्यान में कोई व्यवधान न पहुंचे, उनके दौरे को बेहद गोपनीय रखा गया है।

loading...
शेयर करें