मेरा गुजरात दौरा रोकने के लिए भाजपा ने दिलवाई थी गाली

1

लखनऊ। गुजरात में हुए ऊना कांड के पीड़ितो और उनके परिवारों से बसपा अध्यक्ष मायावती चार अगस्त गुरुवार को मिलने अहमदाबाद जाएंगी। मायावती ने कहा कि वे बहुत पहले ही गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के ऊना जाकर दलितों के पीड़ित परिवार वालों से मिलकर उनके दुख दर्द को बांटना चाहती थी। लेकिन भाजपा पार्टी उन्हें वहां नहीं जाने देने के लिए कई तरह की साजिश करती रही इसलिए वो अभी तक वह वहां नही पहुंच पायी थी।

ऊना कांड

ऊना कांड से ध्यान हटाने की साजिश

मायावती ने अपने बयान में कहा कि बासपा ने इस मामले को संसद के बाहर व संसद में राज्यसभा में काफी मजबूती से उठाया और इस कारण भाजपा ने जानबूझ कर एक राजनीतिक षडयंत्र के तहत उत्तर प्रदेश में अपने एक वरिष्ठ नेता से मेरे खिलाफ अभद्र व अपशब्द कहलवा कर, पार्टी को उलझाने का प्रयास किया, ताकि ऊना कांड से लोगों का ध्यान हटाया जा सके। इसी कारण ऊना दौरा उन्हें स्थगित करना पड़ा था।  माया ने कहा, “हम अहमदाबाद जाकर स्वयं ही उनसे मिलेंगे और उनका धन्यवाद करेंगे। इसी कारण गुरुवार को अहमदाबाद के दौरे पर मैं ऊना कांड के पीड़ितों के साथ-साथ पीड़ित परिवार वालों से भी अहमदाबाद में ही मिलूंगी।”

मायावती ने कहा कि पीड़ित परिवार व गांव के अन्य लोगों ने हमारी पार्टी पर भरोसा जताया है। पीड़ितों का कहना है कि बसपा मुखिया मायावती संसद में व्यस्त हैं। इसलिए उन्हें ऊना आने की जरूरत नहीं है।

 

 

loading...
शेयर करें