एडीबी के सालाना बैठक में बोले गर्ग- विकासशील देशों को निजी क्षेत्र के लिए ऋण की आवश्यकता

0

नई दिल्ली| आर्थिक मामलों के सचिव एससी गर्ग ने शनिवार को मनीला में एडीबी के सालाना बैठक में हिस्सा लिया। इस बैठक में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एशियाई विकास बैंक (एडीबी) की ओर से विकासशील देशों में निजी क्षेत्र के लिए ऋण प्रदान करने में वृद्धि करने की आवश्यकता है। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, उन्होंने कहा कि एडीबी को अधिप्राप्ति व पर्यावरण संरक्षण के लिए ‘कंट्री सिस्टम्स’ अपनाना चाहिए।

इस बैठक में हिस्सा लेते हुए एडीबी बोर्ड में वैकल्पिक गवर्नर गर्ग ने कहा कि पश्चिम एशिया और दक्षिण एशिया पर ध्यान केंद्रित करने की रणनीति होनी चाहिए क्योंकि पूर्वी एशिया में पहले से ही काफी हस्तक्षेप किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि एडीबी में पूंजी की कोई कमी नहीं है इसलिए विविधत लागत वाले ऋण उपकरणों में वृद्धि करने की कोई बात बिल्कुल नहीं है।

इस बारे में जानकारी देते हुए वित्त मंत्रालय ने बतया कि उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) और रोबोटिक्स जैसे तकनीकी प्रगति को ग्रहण करने पर प्रकाश डाला ताकि एशियाई विकास बैंक अपने सदस्यों देशों को इनसे लैस कर अधिक से अधिक फायदा उठा सके।

एशियाई विकास बैंक की सालाना बैठक में पहुंचे भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने जापान बैंक फॉर इंटरनेशनल को-ऑपरेशन के साथ भी द्विपक्षीय बैठक की।

loading...
शेयर करें