लापता NRI बैंकर हैदराबाद में मरा पाया गया

0

हैदराबाद। वैवाहिक संबंधों को लेकर एक एनआरआई भारतीय ने उसके 2 चचेरे भाइयों की हत्या कर दी और उसकी लाश को जमीन में गाड़ दिया था। पुलिस ने शव बरामद कर लिया है। पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि नेशनल बैंक ऑफ अबु धाबी में ग्राहक सेवा अधिकारी 35 वर्षीय सैयद इमरान 4 फरवरी से ही लापता था और उसकी लाश गुरुवार को बांदलागुडा इलाके में एक निर्माणधीन इमारत से जमीन के नीचे खोद कर निकाला गया।

एनआरआई भारतीय

एनआरआई भारतीय इमरान की मां ने दर्ज कराई थी शिकायत

पुलिस उपायुक्त वी. सत्यनारायण ने देर गुरुवार को बताया कि सैफ बिन साबित बा अबूद और उसके दोस्त हाशिम अली को गिरफ्तार किया गया है। एनआरआई इमरान की मां सईदा अफशान बेटे लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस ने हत्या के इस मामले को सुलझाने में सफलता हासिल की। इमरान पिछले माह छुट्टियों में अपने घर आया था और वह चार फरवरी से लापता था।

प्रारंभिक जांच से पता चला है कि इमरान को आखिरी बार एक महिला के साथ फलकनुमा में एक मोटरसाइकिल पर देखा गया था। मामले की आगे की जांच के दौरान सैफ को गिरफ्तार किया गया, जिसने अपने बड़े भाई सईद बिन साबित बा अबूद के साथ मिलकर इमरान की हत्या करने का अपराध स्वीकार कर लिया। अबूद कतर में सैन्यकर्मी है।

इमरान पहले से ही शादीशुदा था और उसका इस शादी से एक बच्चा भी है। इसके बावजूद उसका सईद की पत्नी फातिमा और उसकी बहन के साथ विवाहेतर संबंध थे। अपने घर छुट्टियों पर आए सईद को इन विवाहेतर संबंधों के बारे में पता चला, जिसके बाद उसने अपने भाई के साथ इमरान की हत्या की योजना बनाई। सईद और सैफ ने इमरान की आंखों में मिर्ची का पाउडर डाला और उसके बाद धारदार हथियार से उसका गला काट दिया।

पुलिस ने कहा कि इमरान की हत्या के बाद सईद कतर लौट गया, वहीं फातिमा की तलाश जारी है। फातिमा इस घटना के बाद से फरार है।

loading...
शेयर करें