बीफ मामले पर मोदी के सबसे बड़े मंत्री ने कहा – भोजन पसंद का मामला है, मैं खुद खाता हूं ‘नॉनवेज’

0

नई दिल्ली। देश में इस समय बीफ पर प्रतिबंध का मामला गरमाया हुआ है। हर तरफ इसी को लेकर बहस चल रही है। तरह तरह की बयानबाजी हो रही है। जहां संघ नेता मुसलमानों से मांस छोड़ने की अपील कर रहे हैं वहीँ, बीजेपी सरकार के सबसे वरिष्ठ नेता केन्द्रीय मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने इसपर बड़ा बयान दिया है। नायडू ने कहा, खाना लोगों की पसंद का विषय है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह खुद मांसाहारी हैं और नॉन-वेज खाते हैं।

नायडू ने इस मामले में और भी बातें कहीं। उन्होंने इससे साफ इनकार किया कि भाजपा सभी को शाकाहारी बनाना चाहती है। एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि कुछ पागल लोग ऐसी बातें करते रहते हैं कि भाजपा सभी को शाकाहारी बनाना चाहती है। यह लोगों की पसंद है कि वह क्या खाना चाहते हैं और क्या नहीं।  उन्होंने कहा कि मुद्दे पर राजनीति हो रही है। केन्द्रीय मंत्री ने कहा, ‘एक सियासी पार्टी ने कहा था कि बीजेपी देश में सभी को शाकाहारी बनाना चाहती है और इसपर टीवी डिबेट भी हुआ। मैंने अपने पत्रकार मित्रों को बताया कि मैं हैदराबाद में राज्य बीजेपी प्रमुख था और मांसाहारी भी हूं, फिर भी मैं पार्टी अध्यक्ष बना।

गौरतलब है कि दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में रोज़ा इफ्तार की दावत में शामिल होने पहुंचे आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार ने भारतीय मुसलमानों से ‘गोश्त’ न खाने की अपील की और इसे ‘बीमारी’ बताया। इंद्रेश कुमार ने श्रोताओं से गाय के दूध का शर्बत इस्तेमाल करने की भी अपील की। बता दें पिछले तीन वर्षों में देश के विभिन्न हिस्सों से गौरक्षकों द्वारा हिंसक घटनाओं की खबरें आयी हैं। केन्द्र सरकार ने हाल ही में एक आदेश जारी कर मवेशी बाजार में वध के लिए पशुओं के क्रय-विक्रय पर रोक लगा दी है।

loading...
शेयर करें