एलईडी लाइट से जगमगाएंगे सरकारी विभाग

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने सभी विभागों के प्रमुख सचिवों, सचिवों एवं विभागाध्यक्षों तथा कार्याध्यक्षों को निर्देश दिए हैं कि अपने-अपने विभागों में विद्युत खपत एवं व्यय में कमी लाने के लिए ऊर्जा संरक्षण के उपायों को कड़ाई से लागू कराया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि अपने विभागों में खराब लाइटों के स्थान पर एलईडी लाइट लगवाई जाएं। उन्होंने कहा है कि भविष्य में भी एलईडी लाइट ही लगवाया जाना हर हाल में सुनिश्चित किया जाए।

मुख्य सचिव ने यह निर्देश सभी प्रमुख सचिवों, सचिवों एवं विभागाध्यक्षों तथा कार्याध्यक्षों को परिपत्र भेजकर दिए हैं। उन्होंने कहा है कि प्रदेश में ऊर्जा संरक्षण करने के लिए ऊर्जा संरक्षण अधिनियम 2001 के प्राविधानों को प्रदेश में हर हाल में तत्परता एवं प्राथमिकता से क्रियान्वित कराया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ऊर्जा संरक्षण अधिनियम के प्रावधानों को क्रियान्वित कराने के लिए यूपीनेडा को स्टेट डेजिग्नेटेड एजेंसी नामित किया गया है, जो ब्यूरो आफ एनर्जी इफिसिएन्सी विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार के परामर्श से प्रदेश में ऊर्जा संरक्षण के उपायों को लागू कराने के लिए कार्यरत है।

एलईडी लाइट

एलईडी लाइट क्या है

 

एलईडी का पूरा नाम “लाइट-एमिटिंग डायोड” है। जो कि एक सफेद रंग का बल्ब होता है। एलईडी बल्ब काफी लंबे वक्त तक चलता है और बिजली की कम खपत करता है। यह अन्य बल्ब्स की तुलना में कई गुना बेहतर और सक्षम होता है। एलईडी बल्ब बहुत अच्छी रोशनी देते हैं और इन्हें जलने में ट्यूबलाइट जैसे वक्त नहीं लगता है।

एलईडी बल्ब की कीमत थोड़ी ज्यादा होती है लेकिन इससे आपका बिजली का बिल बहुत कम आता है। यह अन्य सामान्य बल्ब और सीएफएल लाइट्स की तरह बार-बार ऑन-ऑफ करने पर फ्यूज नहीं होता है। साथ ही ज्यादातर एलईडी बल्ब वारंटी के साथ आते हैं।

क्या है एलईडी बल्ब के फायदे

 

1. लॉन्ग टर्म कॉस्ट- एलईडी बल्ब सामान्य बल्बों की तुलना में महंगा आता है लेकिन यह बिजली की बहुत बचत करते हैं और लॉन्ग टर्म में आपके बिल को कम कर देते हैं।

2. टाइम पीरियड- जहां सामान्य बल्ब 1500 घंटे और सीएफएल, ट्यूबलाइट 10,000 घंटे चलती है, वहीं एलईडी बल्ब 60,000 घंटे तक चल सकता है।

3. तुरंत जलना- एलईडी बल्ब स्विच ऑन करते ही तुरंत जल जाता है, वहीं ट्यूबलाइट स्थिर होने से पहले 1-2 बार फ्लक्च्यूएट होती है।

4. बिजली की कम खपत- एलईडी बल्ब सामान्य बल्बों और ट्यूबलाइट की तुलना में कम बिजली खपत करते हैं। बिजली की कम खपत पर्यावरण के साथ-साथ आपकी जेब के लिए भी अच्छी है।

5. जोखिम- सामान्य बल्ब और ट्यूबलाइट ज्यादा गर्मी जनरेट करते हैं जबकि एल.ई.डी. बल्ब हल्के गर्म होते हैं और इनसे आग लगने का शॉर्ट सर्किट होने की जोखिम कम होती है।

loading...
शेयर करें