बजट पूर्व झटका : सब्सिडी के सिलेंडर्स को 12 से घटाकर 10 करने की सलाह

0

नयी दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दुनिया भर में आर्थिक मोर्चे पर छाई अनिश्चचितता के बीच साल 2015-16 के लिए आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया और देशवासियों को भरपूर उम्मीदें दिलाई। लेकिन इसके साथ ही उन्होंने जनता की जेब पर चोट करते हुए सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर्स की संख्या 12 से घटाकर 10 करने की सलाह भी दे दी है।

 
ये भी पढ़ें – आधार कार्ड को लिंक करने का नया सिस्टम तैयार

एलपीजी सिलेंडर्स 1

एलपीजी सिलेंडर्स पहले यूपीए सरकार भी घटा चुकी है

मौजूदा समय में देश के हर परिवार को 14.2 किलोग्राम के अधिकतम 12 एलपीजी सिलेंडर्स सब्सिडी रेट पर 419.26 रुपये में मिल सकते हैं, जबकि मार्केट में इसका रेट इस वक्त 575 रुपए है। सर्वे में कहा गया कि एलपीजी सिलेंडर्स की सब्सिडी को तार्किक किया जाए और सब्सिडी रेट पर ज्यादा से ज्यादा 10 सिलेंडर ही एक परिवार को दिए जाएं।

आपको बता दें कि पिछली यूपीए सरकार ने सितंबर 2012 में सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर्स की अधिकतम संख्या साल में 6 कर दी थी। जिसे जनवरी 2013 में बढ़ाकर 9 किया गया। साल भर बाद जनवरी 2014 में उसे एक बार फिर बढ़ाकर 12 कर दिया गया। ग्राहकों को 1 अप्रैल से 31 मार्च के बीच सब्सिडी वाले 12 सिलेंडर्स दिए जाते हैं। सब्सिडी वाले सिलेंडर पर एक्साइज़ ड्यूटी नहीं ली जाती, लेकिन गैर घरेलू इस्तेमाल वाले सिलेंडर्स पर 8 फीसदी एक्साइज़ ड्यूटी भी ली जाती है।

मौजूदा समय में देश में करीब 15 करोड़ परिवारों के पास एलपीजी सिलेंडर के कनेक्शन हैं। जिनमें से 65 लाख परिवारों ने सब्सिडी छोड़ने की सरकार की पहल को स्वीकार करते हुए सब्सिडी छोड़ भी दी है।

loading...
शेयर करें