IPL
IPL

शेयर बेचकर 15 हजार करोड़ जुटाएगा SBI

नई दिल्ली । एसबीआई यानी  भारतीय स्टेट बैंक के शेयर जल्द ही प्राइमरी मार्केट में मिलेंगे। बैंक ने अपने शेयर बेचकर 15,000 करोड़ रुपये तक जुटाने की योजना बनायी है। हर शेयर का अंकित मूल्य (फेस वैल्यू) 1 रुपये होगा। स्टॉक एकसचेंज को भेजे नोटिस के मुताबिक,  बैंक ने शेयरधारकों की एक बैठक 26 फरवरी को बुलायी है, ताकि इस प्रस्ताव पर मुहर लग सके।

एसबीआई की नई योजनाएसबीआई

शेयर बेचने के लिए एसबीआई ने तमाम विकल्प सामने रखे हैं। ये विकल्प फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर (एफपीओ यानी बाजार में पहले से ही लिस्टेड कोई संस्था अपने शेयर बेचे), या राइट इश्यू (जब कोई संस्था अपने मौजूदा शेयरधारकों को शेयर बेच पैसा जुटाती है) या क्वालिफाइड इंस्टीटूयसंस प्लेसमेंट (क्यूआईपी यानी नियामकों की ओर से मान्यता प्राप्त संस्थानों को शेयर बेचा जाए), या फिर ग्लोबल डिपॉजिटरी रीसीट/अमेरिकन डिपॉजिटरी रीसीट (एडीआर/जीडीआर यानी विदेशी बाजारो में शेयर को आधार बनाकर पैसा जुटाना) हो सकते हैं। ये भी मुमकिन है कि पैसा जुटाने के लिए एक से ज्यादा विकल्प अपनाए जाए।

शेयरधारकों से हरी झंडी मिलने के बाद बैंक सरकार और रिजर्व बैंक से मंजूरी जुटाएगा। फिर बैंक का निदेशक बोर्ड ये तय करेगा कि पैसा जुटाने का क्या तरीका होगा, शेयर किस कीमत पर बेचे जाएंगे, शेयर कब बेचे जाएंगे, शेयर पर प्रीमियम कितना होगा और अलग-अलग निवेशकों के लिए डिस्काउंट की दर क्या हो सकती है।

हालांकि बैंक ने शेयर बेचने के लिए कोई तारीख का लान नहीं किया है। लेकिन संकेत है कि कुछ पैसा 31 मार्च को खत्म होने वाले कारोबारी साल 2015-16 के दौरान और बाकी 1 अप्रैल से शुरु होने वाले कारोबारी साल 2016-17 के दौरान जुटाने की कोशिश होगी। कारोबार में बढ़ोतरी के लिए पूंजी जरुरतों के मद्देनजर बैंक ने शेयर बेचने की योजना बनायी है।

बैंक ने साफ किया है कि पैसा जुटाने की कोशिश में किसी भी सूरत में सरकार की हिस्सेदारी 52 फीसदी से नीचे नहीं आने दी जाएगी।  पूंजी जुटाने की खबर आने के बाद शेयर बाजार में गुरुवार को भारतीय स्टेट बैंक के शेयरों में अच्छी खरीदारी हुई। नतीजा, बुधवार के मुकाबले ये करीब सवा फीसदी की बढ़त के साथ बैंक के शेयर 175.85 रुपये पर बंद हुए।

बैंक में सरकार की हिस्सेदारी 60.18 फीसदी है। इसके अलावा 14 लाख से भी ज्यादा छोटे निवेशक हैं जिनके पास 1 लाख रुपये या उससे कम कीमत के शेयर हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button