ऐसिड अटैक पीड़िता के साथ सेल्फी लेना पड़ा भारी, तीन महिला कॉन्स्टेबल सस्पेंड

0

लखनऊ। सेल्फी लेना आजकल शौक कम और बीमारी ज्यादा बनता जा रहा है। कोई डेड बॉडी के साथ सेल्फी ले रहा है तो कोई अपनी जान खतरे में डाल कर सेल्फी लेने को तैयार है। ऐसा ही एक नया मामला सामने आया है जहां एसिड पीड़िता के साथ सेल्फी लेने की वजह से तीन महिला कॉन्स्टेबलों को सस्पेंड कर दिया गया है।

ऐसिड हमले की पीड़िता के साथ सेल्फी लेने वाली तीन महिला कॉन्स्टेबल सस्पेंड

रायबरेली के ऊंचाहार की रहने वाली पीड़िता जब गंगा-गोमती एक्सप्रेस से अपने घर से वापस लखनऊ लौट रही थी तो दो लोगों ने उन्हें जबरन ऐसिड पिलाने का प्रयास किया था। इस घटना के बाद पीड़िता को गंभीर हालत में लखनऊ के केजीएमयू अस्पताल में भर्ती किया गया। तीनों महिला कॉन्स्टेबलों को वहां पर पीड़िता की सुरक्षा के लिए रखा गया था। लेकिन उन्होंने पीड़िता के साथ सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर डाल दी। पीड़िता के बेड पर ली गई उनकी सेल्फी सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। तीनों कॉन्स्टेबलों को सस्पेंड कर दिया गया है और मामले की जांच चल रही है। इसके अलावा प्रशासन ने लापरवाही करने के आरोप में चार RPF जवानों को भी तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। पुलिस ने दो आरोपी गुड्डू सिंह और भौंदू सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ऐसिड हमले की पीड़िता

इस मामले को गंभीरता से लेते हुए यूपी के सीएम आदित्यनाथ योगी कल पीड़िता की हालत का जायजा लेने के लिए अस्पताल पहुंचे। योगी ने दलित लड़की के साथ हुए रेप के केस में जल्द से जल्द रिपोर्ट पेश करने और आरोपियों को पकड़ने का आदेश दिया है। 45 वर्षीया और दो बच्चों की मां उक्त पीड़िता पर पहले भी कथित रूप से गैंगरेप कर हत्या करने के इरादे से ऐसिड अटैक किया गया था। वो लंबे समय से न्याय की लड़ाई लड़ रही है।

 

 

 

loading...
शेयर करें