ऑनलाइन शॉपिंग पर भी अखिलेश सरकार की नजर टेढ़ी, लगाएगी टैक्स

0

लखनऊ: अगर आप ऑनलाइन शॉपिंग करने के शौक़ीन है तो आपके लिए एक बुरी खबर है। दरअसल, अब ऑनलाइन शॉपिंग करना पहले से ज्यादा महंगा हो जाएगा। अब सूबे की अखिलेश सरकार ने ऑनलाइन शॉपिंग में खरीदारी पर पांच फीसदी टैक्स लगाने का फैसला किया है।

ऑनलाइन शॉपिंग

ऑनलाइन शॉपिंग करना पड़ेगा महंगा

यह फैसला बीते मंगलवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट स्तर की बैठक में लिया गया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बैठक के बाद इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि ऑनलाइन खरीदारी का चलन कुछ सालों में काफी तेजी से बढ़ा है, इसलिए इस कमाई का कुछ हिस्सा सरकार को भी मिलना चाहिए। इस बैठक में ऑनलाइन शॉपिंग के अलावा करीब 40 फैसलों को हरी झंडी दी गई है।

अखिलेश सरकार ने इस फैसले से आम आदमी और ऑनलाइन शॉपिंग कराने वाली वेबसाईट को चाहे परेशानी हो रही हो लेकिन अखिलेश सरकार ने खुदरा व्यवसाई के चेहरे पर एक बार फिर मुस्कान ला दी है, जिनकी दुकानदारी ऑनलाइन शॉपिंग की वजह से काफी प्रभावित हुई थी।

सरकार का यह फैसला मोबाइल शॉप चलाने वाले दुकानदारों के लिए लाभकारी साबित होगी क्योंकि वर्तमान समय में मोबाइल ज्यादातर खरीदार ऑनलाइन वेबसाइट्स को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं।

बता दें कि सरकार ने बजट में आधे फीसदी यानी 0।50 फीसदी कृषि कल्याण सेस लगाने का ऐलान किया था। ये सेस, सेस टैक्स योग्य सभी सेवाओं पर लागू होगा। जिसका साफ मतलब यह है कि हर वह सेवा जिस पर आप अब तक 14 फीसदी सर्विस टैक्स और .50 प्रतिशत स्वच्छता सेस देते थे उसमें आधे फीसदी की बढ़ोतरी के साथ आपको कुल 15 फीसदी सर्विस टैक्स देना होगा। इसके अलावा सर्विस टैक्स में भी 0.05 प्रतिशत का इजाफा किया गया है।

सर्विस टैक्स में हुए इजाफे की वजह से सिनेमा घर में मूवी देखना, पेट्रोल, रेस्त्रां और हवाई सफ़र भी महंगा हुआ है।

 

loading...
शेयर करें