‘ओमेर्टा’ के लिए आसान नहीं सेंसर बोर्ड की राह : हंसल मेहता

0

मुंबई| फिल्मकार हंसल मेहता ने कहा है कि वह जानते हैं कि उनकी फिल्म ‘ओमेर्टा’ के लिए सेंसर बोर्ड से होकर गुजरना आसान नहीं होगा। कुख्यात आतंकी की जिंदगी पर आधारित यह फिल्म चार मई को रिलीज होगी। लंदन और भारत में फिल्माई गई राजकुमार राव अभिनीत फिल्म कुछ आतंकी हमलों के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसमें 9/11 हमला, मुंबई आतंकी हमला और अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल का बेरहमी से सिर कलम करने की घटना शामिल है।

हंसल मेहता

फिल्म शुक्रवार को रिलीज होने वाली थी लेकिन इसकी रिलीज को अब आगे बढ़ाकर चार मई कर दिया गया है।

मेहत ने एक बयान में कहा, “फिल्म की कड़ी भाषा और हिसा को देखते हुए हम जानते थे कि सेंसर बोर्ड से गुजरना फिल्म के लिए आसान नहीं होगा। हम फिल्म की मूल भावना को बनाए रखने के लिए फिल्म में कट नहीं चाहते थे, इसलिए हमने इंतजार किया।”

उन्होंने कहा, “सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष और समीक्षा समिति के सदस्यों ने समझा कि कुछ विशेष दृश्य हटाए नहीं जा सकते हैं क्योंकि यह दर्शकों को बताने के लिए जरूरी हैं कि एक आतंकी का दिमाग कैसे काम करता है। इसलिए, हमने इंतजार किया और ‘ओमेर्टा’ को चार मई को रिलीज करने का फैसला किया गया।”

फिल्म के निर्माता नाहिद खान ने कहा कि फिल्म के मूल तत्वों को बिगाड़ने से बचाने के लिए रिलीज तिथि में विलंब बुरा नहीं है। सेंसर बोर्ड ने ‘ओमेर्टा’ को एक संशोधन के साथ ‘ए’ सर्टिफिकेट के साथ हरी झंडी दे दी है।

loading...
शेयर करें