ओली पर भड़के वसीम रिजवी, कहा- चाइनीज वायरस की चपेट में आया दिमाग

नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने अपने राष्ट्र के नाम संबोधन में भगवान राम को नेपाली बताया है। ओली ने कहा की असली अयोध्या भारत में नहीं नेपाल में है जिसके बाद से हिंदुस्तान में लोगों में ओली के प्रति खासी नाराजगी देखी जा रही है। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने नेपाली पीएम के दिमाग को चाइनीज वायरस की चपेट में बताया है।

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के बयान के बाद से विवाद खड़ा हो गया है। ओली के बयान से हिंदुस्तान के संतों और पुजारियों में तो नाराजगी है ही, अब शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष और राम मंदिर के पक्षधर रहे वसीम रिजवी ने ओली पर जबानी हमला बोला है। वसीम रिजवी ने मंगलवार को अपने बयान में कहा कि पूरी दुनिया के इतिहासकार जानते है कि अयोध्या भगवान राम का जन्मस्थान है।

रिजवी ने कहा कि भारत का नाम भगवान श्री राम के छोटे भाई भरत के नाम पर पड़ा। उन्होंने कहा कि भगवान राम जब माता सीता को लेने और रावण का वध करने लंका जा सकते है तो नेपाल से माता सीता को विवाह कर के लाना बहुत मामूली बात है। वसीम रिजवी ने कहा कि नेपाल ने भगवान श्री राम के जन्मस्थान पर विवादित बयान देकर भारत में धार्मिक विवादों को बढ़ाने की कोशिश की है। वसीम रिजवी ने नेपाली पीएम पर टिप्पड़ी करते हुए कहा कि उनका दिमाग चाइनीज वायरस की चपेट में आ चुका है

Related Articles