कठुआ गैंगरेप केस: साध्वी प्रज्ञा ने दिया विवादित बयान, कांग्रेस और वामपंथियों पर लगाए गंभीर आरोप

0

नई दिल्ली: जिस कठुआ गैंगरेप और हत्या मामले को लेकर पूरे देश में आक्रोश देखने को मिल रहा है, उसी को लेकर मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ने विवादित बयान दिया है। कठुआ गैंगरेप मामले को लेकर साध्वी प्रज्ञा ने कहा है कि इस मामले में बच्ची के साथ रेप नहीं हुआ है, सिर्फ उसकी हत्या की गई है। और यह हत्या किसने की, नहीं पता। उन्होंने आशंका जताते हुए इस मामले को एक राजनीतिक साजिश करार दिया है।

कठुआ गैंगरेप मामले को लेकर साध्वी प्रज्ञा ने यह बयान गुजरात के नवसारी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान दिया। इस कार्यक्रम में मीडिया से बातचीत करते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि कठुआ गैंगरेप केस एक ऐसा षडयंत्र है जिसको सुनकर और ज्यादा मन में बड़ी घृणा पैदा होती है जाति विशेष वर्ग के लिए, और वह वर्ग मुस्लिम वर्ग है, वह वर्ग कांग्रेसी वर्ग है, वह वर्ग वामपंथी वर्ग है, और मैं इसलिए यह स्पष्ट कह पा रही हूं कि इतना घृणित कार्य जिसे बलात्कार कहेंगे, और वह बलात्कर जिस बच्ची के साथ हुआ ही नहीं है, ये मेडीकल रिपोर्ट कह रही है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट कह रही है कि बलात्कार हुआ ही नहीं उसके साथ। सिर्फ उसकी हत्या हुई है और वो भी किसने की पता नहीं।

उन्होंने अपने बयान में आगे कहा कि लेकिन बलात्कार जैसा केस लगाकर के मुस्लिम अपनी बच्ची के साथ और हिंदुओं को उसमें डाल देना, इससे बड़ा वीभत्स राजनीतिक षडयंत्र और क्या हो सकता है! यानी बच्ची का बलात्कार नहीं हुआ है, पर बलात्कार किसने किया है, आपको मालूम है?

साध्वी प्रज्ञा ने आगे कहा कि कठुआ गैंगरेप केस में जिस बच्ची की हत्या हुई, उसकी तरफ किसी का ध्यान नहीं गया। पर कांग्रेसियों, वामपंथियों ने, मुस्लिमों ने उस बच्ची का मरने के बाद बलात्कार कर दिया। जिसका अर्थ आप समझ सकते हैं कि जिसका बलात्कार नहीं हुआ है, उस बच्ची का बता दिया कि इसके साथ बलात्कार हुआ है, ऐसा हुआ है, वैसा हुआ है, इतना घृणित कार्य कर दिया। यानी उस बच्ची की जो मृत्यु हुई है, उसकी आत्मा को भी इन लोगों ने तसल्ली से रहने नहीं दिया। ये क्या उसके हितैषी होंगे।

 

loading...
शेयर करें