कठुआ रेप मामले को लेकर महबूबा ने जताया भरोसा- इंसाफ के रास्ते नहीं आएगी कोई अड़चन

श्रीनगर| जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में मासूम के साथ हुए गैंगरेप और हत्या के मामले को लेकर सूबे की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा है कि कठुआ जिले में आठ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म व उसकी हत्या के मामले में इंसाफ के रास्ते में कोई बाधा नहीं आने दी जाएगी।

दरअसल, महबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ट्विटर के माध्यम से कहा कि कुछ लोगों के एक समूह के गैर-जिम्मेदाराना कार्यो व बयानों से कानून के रास्ते में कोई अड़चन नहीं आएगी। उचित कार्रवाई की जा रही है। मामले में तेजी से जांच आगे बढ़ रही है, इंसाफ होगा।

इससे पहले जम्मू बार एसोसिएशन ने जम्मू-कश्मीर पुलिस की अपराध शाखा द्वारा मामले में की जा रही कार्रवाई के विरोध में प्रदर्शन किया। एसोसिएशन ने मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग की है।

आपको बता दें कि कठुआ के रासना गांव में जनवरी में बाकरवाल समुदाय की बच्ची का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या करने के मामले में मुख्य आरोपी सांजी राम समेत आठ लोगों का आरोपी बनाया गया है।

जांच में पता चला है कि बच्ची को अगवा कर एक मंदिर में रखा गया था। उसे नशीली दवा पिलाकर उसके साथ बार-बार दुष्कर्म किया गया। गांव के बाहर बाकरवाल समुदाय में भय पैदा करने के मकसद से आखिरकार उसकी हत्या कर दी गई। सांजी राम पर प्रमुख साक्ष्य मिटाने के लिए एक सब इंस्पेक्टर और सिपाही समेत स्थानीय पुलिस को रिश्वत देने का भी आरोप है।

Related Articles