कन्हैया कुमार ने एक बार फिर किया पीएम मोदी पर हमला कहा…

3

मुंबई जेएनयूएसयू के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और कहा कि सरकार को जुमलेबाजी बंद कर काम शुरू करना चाहिए, क्योंकि जनता का धैर्य अब जवाब दे रहा है। यहां तिलक नगर में विद्यार्थियों की एक रैली को संबोधित करते हुए कन्हैया ने कहा कि जनता स्टैंड-अप इंडिया, मेक इन इंडिया, स्किल इंडिया जैसे जुमले और झूठे वादे तथा सांप्रदायिक-जातिवादी राजनीति नहीं चाहती, बल्कि वह शिक्षा, रोजगार, और विकास चाहती है।

यह भी पढ़ें : Watch : सनी लियोनी ने कैसे शूट किए ‘वन नाइट स्टैंड’ के Intimate Scenes

कन्हैया कुमार

कन्हैया कुमार ने कहा, मोदी सरकार डरी हुई है

कन्हैया ने तालियों की गड़गड़ाहट के बीच अपने भाषण में कहा कि हमारी राजनीति सामाजिक न्याय की है, देश की आम जनता की मदद करने की है। देश के विद्यार्थी और श्रमिक एकजुट हो रहे हैं। इसलिए मोदी सरकार इतना डरी हुई है। कन्हैया ने आरएसएस द्वारा प्रेरित जातिवादी राजनीति के पूर्ण सफाए की मांग की और कहा कि उनका संघर्ष लोकतंत्र को बचाने और सामाजिक न्याय सुनिश्चित करने तथा सशक्तीकरण को लेकर है। उन्होंने कहा कि जनता आखिर कब तक पीड़ित होगी?.. सूर्योदय होकर रहेगा। कन्हैया यहां वामपंथी, छात्र एवं युवा संगठनों की ओर से आयोजित एक शैक्षिक सम्मेलन में हिस्सा लेने आए हुए थे। इसके बाद रविवार को वह पुणे में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

मोदी जी बुलेट ट्रेन से पहले, लोकल ट्रेन को सुधारें

कन्हैया कुमार ने कहा कि मोदी कहते हैं कि उनकी मां ने दूसरों के यहां बर्तन मांजकर उनका पालन पोषण किया। तो हम मोदी जी से आग्रह करते हैं कि देश के जितने लोग बर्तन मांजकर परिवार चलाते हैं, उनके बच्चों की फीस माफ कर दी जाए। उन्होंने कहा कि भारत में लोकतंत्र है इसलिए आप जबरन भारत माता की जय का नारा क्यों लाद रहे हैं। जबरन क्यों तय कर रहे हैं कि कौन क्या खाएगा। आप देश में बुलेट ट्रेन जरूर चलाएं, लेकिन आम लोगों के लिए ट्रेन बढ़ाएं, मुंबई की लोकल ट्रेन को सुधारें। कन्हैया कुमार ने कहा कि गरीबों को रोजगार की आवश्यकता है। आप उनसे हमारे ऊपर जूता फेंकवा कर उनका कल्याण नहीं कर सकते हैं।

loading...
शेयर करें

3 टिप्पणी