कबीर बेदी की चौथी बीवी की उम्र उनकी बेटी से भी कम है

मुंबई| मनोरंजन-जगत में कबीर बेदी 1970 के दशक का एक जगमगाता नाम है। वह ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्होंने अपनी रियल लाइफ ‘रील लाइफ’ की तरह जी है, अपने अनोखे अंदाज के लिए पहचाने जाने वाले अभिनेता कबीर बेदी ने अपनी जिंदगी को मनचाहे तरीके से जिया, उन्होंने भारत ही नहीं, बल्कि संयुक्त राज्य अमेरिका और कई यूरोपीय देशों में नाम कमाया है। वह ऐसे चुनिंदा अभिनेताओं में शुमार रहे हैं, जिन्होंने हॉलीवुड फिल्मों में भी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया और शोहरत हासिल की।

कबीर बेदी

कबीर बेदी की पर्सनल लाइफ भी फिल्मों जैसी

कबीर बेदी ने फिल्मों, रंगमंच और टेलीविजन की दुनिया में अद्भुत कारनामों के जलवे बिखेरे हैं, वह 1970 के दशक के जाने-माने कलाकारों में से हैं। 16 जनवरी 1946 को जन्मे अभिनेता कबीर के पिता बाबा प्यारे लाल सिंह बेदी लेखक और दार्शनिक थे। उनकी मां फ्रीडा बेदी इंग्लैंड के डर्बी से थीं। वह तिब्बती बौद्ध धर्म को अपनाने वाली पहली महिला थीं।

कबीर बेदी ने नैनीताल के शेरवुड कॉलेज में अपनी स्कूली शिक्षा प्राप्त की। इसके बाद दिल्ली के सेंट स्टीफन कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई पूरी की। कबीर ने चार बार शादी की और उनके पूजा, सिद्धार्थ (दिवंगत) और एडम नामक तीन संतानें हुईं। कबीर बेदी ने अपनी बेहतरीन पर्सनैलिटी के साथ कई महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित किया, इसके चलते उनके कई लव-अफेयर्स भी चर्चित रहे हैं। मॉडलिंग से अपने करियर की शुरुआत करने वाले कबीर बेदी ने अपनी जिंदगी में जो चाहा, वो पाया।

कबीर बेदीकबीर बेदी ने की चार शादियां 

कबीर बेदी की पहली शादी डांसर प्रोतिमा बेदी से हुई, जिससे उनकी बेटी पूजा बेदी और बेटा सिद्धार्थ हुए। प्रोतिमा से रिश्ते खराब होने के बाद कबीर तीन साल तक अभिनेत्री परवीन बाबी से अफेयर और लिव-इन रिलेशनशिप को लेकर सुर्खियों में रहे। हालांकि, परवीन से उन्होंने शादी नहीं की। 1997 में सीजोफ्रीनिया नाम की बीमारी से पीड़ित उनके बेटे सिद्धार्थ ने आत्महत्या कर ली, इस सदमे से कुछ समय बाद उनकी पहली पत्नी प्रोतिमा की भी मौत हो गई।

कबीर बेदी ने दूसरी शादी ब्रिटिश फैशन डिजाइनर सुसैन हम्फ्रेस से की। दोनों का एक बेटा एडम बेदी हैं, जो एक इंटरनेशनल मॉडल हैं। एडम फिल्म ‘हैलो कौन है?’ से बॉलीवुड में शुरुआत कर चुके हैं। इसके बाद कबीर की दूसरी शादी भी तलाक में बदल गई। कबीर ने 1990 के दशक में तीसरी शादी टीवी और रेडियो प्रेजेंटर निक्की से की। 2005 में ये रिश्ता तलाक पर खत्म हुआ। दोनों के बच्चे नहीं हैं। इसके बाद से ही कबीर ब्रिटिश मूल की अभिनेत्री और मॉडल परवीन दुसांज के साथ रिलेशनशिप में थे। कुछ समय तक लिव-इन में रहने के बाद अब दोनों शादी कर चुके हैं। खास बात यह कि कबीर की चौथी पत्नी परवीन (उम्र करीब 40 साल) उनकी बेटी पूजा बेदी से भी चार साल छोटी हैं।

बॉलीवुड से हॉलीवुड तक का सफर :

पश्चिमी देशों में अभिनेता कबीर बेदी के करियर की शुरुआत ओ.पी. रल्हन की ‘हलचल’ से हुई, लेकिन उन्हें नाम और शोहरत यूरोप की मशहूर मिनी सीरीज सैंडोकन में काम करने के बाद मिली। कबीर ने बॉन्ड की फिल्म ‘ऑक्टोपसी’ में मुख्य खलनायक का किरदार निभाया। इसके साथ ही कबीर ने मशहूर टीवी शो ‘ओपेरा’ में भी काम किया। कबीर बेदी का करियर और जिंदगी हमेशा ही भारतीय शैली से अलग रहे हैं।

कबीर बेदी भारत के राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों को लेकर ‘तहलका’ और ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ सहित भारतीय प्रकाशनों के लिए एक नियमित योगदानकर्ता रहे हैं। उन्हें भारतीय राष्ट्रीय टेलीविजन पर भी इन विषयों पर चर्चा करते देखा जा चुका है। कबीर बेदी ने अपने जीवन में कई पुरस्कार और उपलब्धियां हासिल की हैं। उनके भारत ही नहीं, दुनियाभर में उनके कई प्रशंसक हैं। उन्होंने भारत और यूरोप में फिल्मों और विज्ञापन के लिए कई पुरस्कार जीते हैं। वर्ष 1982 के बाद कबीर मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज के प्रतिष्ठित अकादमी के सदस्य बने। यह संस्था ऑस्कर पुरस्कार पेश करने की जिम्मेदारी उठाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button