पैसा लेकर भागने वाली कंपनियों पर योगी सरकार की नजरें टेढ़ीं

0

लखनऊ। आम लोगों की गाढ़ी कमाई लेकर भागने वाली कंपनियों पर उत्तर प्रदेश सरकार लगाम कसने जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कंपनियों द्वारा जमाकर्ताओं का धन लेकर गायब होने की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए निर्देश दिया है कि ऐसी कमाई लेकर भागने वाली कंपनियों की पहचान कर उनपर तत्काल शिकंजा कसा जाए।

कमाई लेकर भागने वाली कंपनियों

कमाई लेकर भागने वाली कंपनियों की पहचान करने के दिए आदेश

योगी ने संस्थातगत वित्त विभाग के देर रात हुए प्रस्तुतिकरण के दौरान कहा, विभिन्न कम्पनियों द्वारा जमाकर्ताओं के पैसे को लेकर भाग जाने की घटनाओं पर तत्काल प्रभाव से रोक लगायी जाए। ऐसी कम्पनियों को चिन्हित कर उन पर शिकंजा कसा जाए और जमाकर्ता हित संरक्षण कानून 2016 का क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए।

मेक इन यूपी को लेकर दिए आदेश

उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया की तर्ज पर मेक इन यूपी अभियान को सफल बनाने की योजनाएं बनायी जाएं। बैंकिंग सुविधाएं सभी को मुहैया कराने के हरसम्भव प्रयास किये जाएं और अधिक से अधिक संख्या में बैंक खाते खोलने के लिए अभियान चलाया जाए। मुख्यमंत्री ने स्टैण्ड-अप योजना की धीमी प्रगति पर असन्तोष जताते हुए कहा कि इस योजना के तहत प्रति बैंक शाखा एक अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लाभार्थी तथा एक महिला उद्यमी को रिण उपलब्ध कराने के लक्ष्य को शीघ्रता से पूरा किया जाए।

आर्थिक विकास पर होगा जोर

उन्होंने कहा कि इससे प्रदेश का आर्थिक विकास होगा और बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। उन्होंने कहा कि लघु एवं सीमान्त किसानों के फसली रिण माफ किये जाने के सम्बन्ध में लिये गये निर्णय के अनुसार संस्थागत विा विभाग द्वारा प्रभावी कार्यवाही की जाए, जिससे किसान को इस सम्बन्ध में कठिनाई न हो। प्रदेश के गांवों में बैंक शाखाएं उपलब्ध कराने के लिए कार्यवाही की जाए।

loading...
शेयर करें