कर्नाटक चुनाव: टिकट के बंटते ही कांग्रेस में मचा घमासान, सिद्धारमैया पर लगे गंभीर आरोप

बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर बीते दिनों कांग्रेस द्वारा जारी किये गए 218 उम्मीदवारों की फेहरिस्त ने पार्टी में नई अंतर्कलह की शुरुआत की है। दरअसल, सूबे में टिकट बंटवारे को लेकर पार्टी नेताओं में नाराजगी दिखाई दे रही हैं। पार्टी के कई क्षेत्रीय नेताओं ने बगावती तेवर अपना लिया है। कई नेताओं ने इस्तीफा देने तक की धमकी दे दी है और इस बात का ठीकरा मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के सिर पर फोड़ा है। कर्नाटक में इस तरह का बगावती तेवर कांग्रेस के लिए एक तगड़ी चोट मानी जा रही है।

कांग्रेस के नेताओं में यह असंतोष हंगल, मायाकोंडा, जगलुर, तिप्तुर, कुनिगल, कोलार, कोल्लेगल, बेलूर, बदामी, कित्तूर, नेलमंगला जैसी सीटों पर चयनित उम्मीदवारों को लेकर सुनने को मिली है। पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा सीएम सिद्धारमैया पर मनमानी करने का आरोप लगाया जा रहा है।  हंगल विधानसभा से वर्तमान विधायक और पूर्व एक्साइज मिनिस्टर मनोहर तहसीलदार के समर्थकों ने उनका टिकट कटने पर प्रदर्शन किया है। जबकि जगलुर से वर्तमान विधायक एचपी राजेश का भी टिकट कटा है जिसको लेकर उनके समर्थक भी विरोधी तेवर अपनाए हुए हैं।

भले ही कित्तूर सीट से कांग्रेस ने अभी अपने उम्मीदवार के नाम पर मुहर नहीं लगाई है। लेकिन इस सीट के लिए हवा चल रही है कि पिछले पांच बार से लगातार विधायक चुने जा रहे डीबी इनामदार को इस बार उम्मीदवार नहीं बनाया जाएगा। चर्चा है कि इस बार उनके रिश्तेदार बाबासाहब पाटील को इस सीट से प्रत्याशी बनाए जाने पर चर्चा की जा रही है। इस बार को लेकर डीबी इनामदार के समर्थकों में काफी रोष देखने को मिल रहा है।

रूरल बेंगलुरु की नेलमंगला सीट के लिए चयनित उम्मीदवार को लेकर भी पार्टी कार्यकर्ताओं में काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है। इस सीट पर कांग्रेस नेता अंजना मुर्थी को दरकिनार किए जाने से नाराज के समर्थकों से अपना गुस्सा जाहिर करते हुए सड़क पर जाम लगा, टायर जला कर प्रदर्शन किया है। यहां से कांग्रेस ने आर नारायणस्वामी को टिकट दिया है।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले सूबे में मची इस अंतर्कलह को पार्टी के लिए बहुत बाद झटका बताया जा रहा है। एक तरफ जहां कांगेस अध्यक्ष राहुल गांधी यहां लगातार रैलियां और जनसभाएं कर देश की राजनीति में लगातार सिमटती जा रही कांग्रेस के सामने कर्नाटक किला बचाने की कवायद में जुटे हैं, वहीं पार्टी में इस तरह के बगावती तेवर अनजाने में विपक्ष के लिए मजबूती साबित हो सकती है।

आपको बता दें कि बीते दिन कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने 218 उम्मीदवारों की सूची जारी की। इस सूची से तय हो गया है कि सिद्धारमैया चांमुडेश्वरी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। वहीं उनके बेटे यथींद्र वरुणा विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतरेंगे।

Related Articles