भारत का एक ऐसा शहर जहां गायब हो जाती हैं लड़कियां

0

भारत में एक ऐसा शहर भी है जहां पर बहुत से पति और भाई ऐसे मिल जाएंगे जो अपनी पत्नियों और बहनों की तलाश में भटक रहें है। यह सनसनीखेज रिपोर्ट कर्नाटक के शहर बैंगलूरू की है। इस शहर में करीब डेढ़ साल में 3977 महिलाएं लापता हो गईं। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर आए आंकड़ों में हैरान कर देने वाले खुलासे सामने आए हैं।

कर्नाटक

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, उमेश मौर्या नाम के व्यक्ति की कुछ दिन पहले ही सीमा कुशवाहा नाम की लड़की से शादी हुई थी। सीमा कुछ महीनों के लिए लखनऊ पीएचडी करने गई और खुशी की बात ‌थी कि वह मई में वापस भी आ गई। लेकिन उमेश की यह खुशी ज्यादा दिन तक के लिए नहीं थी।

सीमा के लखनऊ से वापस आने के बाद उमेश ने सपना संजो रखा था वह अपनी पत्नी के साथ खुशनुमा जिंदगी गुजारेगा लेकिन दो दिन बाद ही उसका सपना चकनाचूर हो गया। दो दिन बाद सीमा शहर से गायब हो गई और महीनों तक उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई।

उमेश बहुत कम लोगों में से एक ऐसा शख्स है जिसकी खुशी उसे वापस मिल गई। पुलिस के कठिन प्रयास के बाद अभी कुछ दिन पहले ही सीमा को ढूढ़ निकाला। लेकिन एनसीआबी के आंकड़े बताते हैं कि उन महिलाओं की संख्या बहुत ही कम है जिन्हें लापता होने के बाद ढूंढ़ने में सफलता मिली हो।

आंकड़ों के अनुसार, जनवरी 2015 से मई 2016 तक शहर से 3977 महिलाएं गायब हुई हैं। इन महिलाओं में से 2027 महिलाएं ऐसी हैं जिनके बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है कि वह जीवित हैं या मार दी गईं।

टाइम्स ऑफ इंडिया ने लिखा है कि पिछले साल की तुलना में इस साल के आंकड़े चौंकाने वाले हैं। पिछले साल 2753 महिलाएं गायब हुई थी जिनमें 1355 को ढूंढ़ लिया गया था जबकि इस साल 12224 महिलाएं गायब हुई हैं और अभी तक सिर्फ 672 महिलाओं के बारे में जानकारी मिल सकी है।

loading...
शेयर करें