कश्मीर घाटी में बर्फबारी व भूस्खलन, 8 लोगों की मौत

0

श्रीनगर। कश्मीर घाटी में गुरुवार को लगातार तीसरे दिन बर्फबारी व बारिश का दौर जारी है। इस दौरान आठ लोगों की मौत हो चुकी है। बारिश व बर्फबारी के कारण यहां सड़क एवं हवाई मार्ग भी अवरुद्ध हैं, जिससे घाटी का संपर्क देश के बाकी हिस्सों से टूट गया है। कई इलाकों में भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग को बंद कर दिया गया है।

कश्मीर घाटी

यातायात विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “यात्रियों और चालकों की सुरक्षा के लिए राजमार्ग बंद कर दिया गया है। हमारी घोषणा तक कोई भी राजमार्ग से यात्रा न करे।” कम ²श्यता के कारण गुरुवार को भी श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरने वाली और यहां उतरने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया। श्रीनगर में मंगलवार से ही कोई उड़ान संचालित नहीं हो रही है।

कश्मीर घाटी और जम्मू क्षेत्र के बनिहाल कस्बे के बीच पटरियों पर बर्फ के भारी जमाव के कारण रेल सेवा भी रोक दी गई। बांदीपोरा जिले के तुलियाल गांव में बुधवार को हुए हिमस्खलन में एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत हो गई। इस परिवार के पांचवें सदस्य को मलबे के नीचे से सुरक्षित निकाल लिया गया। गांदेरबल जिले के सोनमर्ग क्षेत्र में बुधवार को हुए हिमस्खलन में सेना के एक मेजर अमित सागर की जान चली गई, जबकि सात सैनिक घायल हो गए।

घायल सैनिकों को बचाकर उन्हें प्राथमिक चिकित्सा दी गई। इसके अतिरिक्त एक मजदूत सहित तीन अन्य लोगों की मौत भी गुरुवार को छत ढहने तथा ठंड से हो गई। प्रशासन ने चेतावनी जारी करते हुए हिमस्खलन की दृष्टि से संवेदनशील क्षेत्रों के लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने को कहा है। सोनमर्ग, गुलमर्ग और पहाड़ों के कुछ अन्य क्षेत्रों में बुधवार से आठ फुट तक ताजा बर्फबारी हुई है। सड़कों पर बर्फ के जमाव के कारण घाटी में अंतर-जिला सड़क संपर्क बाधित हो गया है। श्रीनगर और अन्य स्थानों पर लोगों ने बिजली कटौती की शिकायत की है। मौसम विभाग ने गुरुवार शाम से मौसम में सुधार की उम्मीद जताई है।

loading...
शेयर करें