कश्मीर मसले का हल निकालो वर्ना तब तक पठानकोट जैसे हमले झेलो

कश्मीरनई दिल्ली। कश्‍मीर मसले पर भारत के खिलाफ एक बार फिर जहर उगलकर परवेज मुशर्रफ ने पाकिस्‍तान के मंसूबों को साफ बयां कर दिया है। मुशर्रफ ने कहा है कि कश्‍मीर मसले का हल निकालो नहीं तो तब तक पठानकोट जैसे हमले झेलते रहो। एक पाकिस्तानी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में मुशर्रफ ने कहा कि पठानकोट मामले में भारत कुछ ज्यादा प्रतिक्रियाएं दे रहा है। इस तरह के हमले भविष्य में भी होते रहेंगे। उन्होंने कहा कि आतंकवाद भारत और पाकिस्तान दोनों देशों में में हैं। हम भी इसके पीड़ित हैं, इसलिए पठानकोट जैसे मसले पर बहुत ज्यादा प्रतिक्रिया देने से कुछ नहीं होगा। निश्चित तौर पर हमें इस पर नियंत्रण करना चाहिए।

कश्‍मीर के बाद पर्रिकर के बयान पर दिया जवाब

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बयान पर जोरदार प्रतिक्रिया देते हुए मुशर्रफ ने कहा कि हम भी आपको वहीं मारेंगे, जहां आपको तकलीफ होगी। आप किसी तरह की गलतफहमी में न रहें। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार को आर्मी डे सेलिब्रेशन में पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा था कि यदि कोई आपको नुकसान पहुंचाता है, वह भी वही भाषा समझता है। उसे अपने किए का पता तब तक नहीं चलता, जब तक आप उसे उसी दर्द का अहसास नहीं दिलाते।

मोदी के मुकाबले वाजपेयी और मनमोहन ज्‍यादा लोकप्रिय

प्रधानमंत्री मोदी पर एक बार फिर निशाना साधते हुए मुशर्रफ ने कहा कि मोदी के मुकाबले अटल बिहारी वाजपेयी भारत-पाकिस्तान संबंधों को लेकर ज्यादा ईमानदार थे। उन्होंने मनमोहन सिंह की भी तारीफ की। मुशर्रफ ने कहा कि बिहार और दिल्ली में हार मिलने से साबित हो गया है कि मोदी भारत में भी कितने लोकप्रिय हैं।

पाकिस्‍तान पर दबाव नहीं बना सकता भारत

मुशर्रफ ने कहा कि भारत में जब भी कोई आतंकी हमला होता है, सबसे पहले पाकिस्तान का नाम लिया जाता है। लेकिन भारत आतंकवाद से अछूता नहीं है। भारत में भी चरमपंथी हैं। उन्होंने कहा कि भारत आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर इस तरह दबाव नहीं बना सकता। बेशक हमारा देश छोटा है, लेकिन हमारा भी आत्मसम्मान है। भारत में ऐसे बहुत सारे इलाके हैं, जहां पर उग्रवाद पनप रहा है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button