कहां लापता हो रही हैं यूपी की लड़कियां? सेक्स रैकेट का तो कोई चक्कर नहीं

0

कानपुर। कानुपर के सचेंडी में एक 16 वर्षीय लड़की से गैंगरेप करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। खबर है कि पीड़िता को उसके ही पड़ोसी युवक ने अपने ड्राइवर के साथ चलती कार में दुष्कर्म किया। यही नहीं, आरोपी ने ड्राइवर के साथ मिलकर पीड़िता को बंधक बनाकर भी रखा। बंधक बनाने के बाद वहां कुछ और लड़कों ने भी पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद आरोपी ने पीड़िता को औरैया के अधेड़ के हाथों बेच दिया।

सेक्स रैकेट

सेक्स रैकेट की आशंका

बात यही नहीं रुकी। जब पीड़िता के परिजन अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाने पुलिस स्टेशन गए तब पुलिस ने उन्हें चलता कर दिया। इसके बाद रोजाना थाने जाने का क्रम चलता रहा पर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। जानकारी के अनुसार, 11 जून को पीड़िता के पड़ोसी युवक ने कार ड्राइवर की मदद से नौकरी दिलाने के बहाने साथ लेकर चला गया।

रास्ते में युवक और कार चालक ने चलती कार में उससे दुष्कर्म किया। कानपुर के सचेंडी में उसे दो दिन तक बंधक बनाकर रखा गया। यहां दो और युवकों ने उसका शारीरिक शोषण किया। इतना ही नहीं पड़ोसी युवक ने 60 हजार रुपये में किशोरी को औरैया के पिरहनी गांव में रहने वाले अधेड़ के हाथ बेच दिया।

बताया कि यहां पीड़िता के साथ कई दिनों तक दुष्कर्म किया गया। मामला प्रकाश में आने के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि यहां कोई बड़ा सेक्स रैकेट सक्रिय है। हालांकि, पुलिस इस बात से साफ़ इंकार कर रही है। पीड़िता को कई दिन तक बंधक बनाने व उसके साथ गैंगरेप करने के बाद आरोपी ने ड्राइवर की मदद से युवती को औरैया के अधेड़ के हाथों 60 हजार रुपये में बेच दिया।

सेक्स रैकेट की बात से पुलिस कर रही इंकार

उधर, कई दिन तक पीड़िता के परिजन पुलिस चौकी के चक्कर काटते रहे लेकिन तब भी पुलिस हरकत में नहीं आई और बार-बार उन्हें टरकाती रही। जब यहां बात नहीं बनी तब पीड़िता के परिजनों ने एसपी से न्याय की गुहार लगाई। एसपी से न्याय की गुहार लगाने पर पुलिस हरकत में तो आई पर मुकदमा दर्ज नहीं किया।

इसी दौरान पीड़िता का एक मोबाइल घर पर परिजनों हाथ लग गया। जिसमें उसे ले जाने वाले आरोपी की मां की काल पड़ी मिली। परिजनों ने पता करना शुरू किया तो पीड़िता के औरैया में होने की जानकारी मिली। जानकारी जुटाने के बाद परिजन थाने पहुंचे और पुलिस को इसकी सूचना दी। सकते में आई पुलिस बिना परिजनों को जानकारी दिए औरैया के पिरहनी गांव पहुंची और अधेड़ के पास बंधक बनी पीड़िता को बरामद कर थाने ले आए।

यह भी पढ़ें :  यूपी पुलिस की हैवानियत, बस से उतारकर रातभर करते रहे गैंगरेप और फिर…

पीड़िता के मिलते ही सारा मामला प्रकाश में आया कि कैसे उसे पड़ोसी ने बंधक बनाया और उसके साथ आगे क्या क्या हुआ। पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने खुद से हुई हैवानियत की दास्तां बयां की। उसने बताया कि बताया कि शुभम के साथ जाने के बाद हर पल उसका शारीरिक शोषण किया गया। नींद की गोलियां तक उसे दीं गईं। दिन में सिर्फ एक बार खाना दिया जाता था। वहीं, सेक्स रैकेट की बात से पुलिस साफ़ इंकार कर रही है।

loading...
शेयर करें