कांग्रेस का घोषणापत्र जारी- महिलाओं को मिलेगा पचास प्रतिशत आरक्षण

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने समाजवदी पार्टी से गठबंधन करके अपनी इज्‍जत बचाने का प्रयास किया है। इस कारण वह प्रदेश की सत्‍ता पर काबिज होना चाहती है। बुधवार को प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद और प्रदेश अध्‍यक्ष राजबब्‍बर ने कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की मौजूदगी में कांग्रेस का घोषणापत्र जारी किया गया।

कांग्रेस का घोषणापत्र

कांग्रेस का घोषणापत्र जारी करते समय आजाद ने शेयर की बात

प्रदेश में कांग्रेस का घोषणापत्र जारी करते समय गुलाम नबी आजादी ने कुछ बातें भी शेयर की। आइये डालते हैं एक नजर।

कांग्रेस के घोषणापत्र में महिलाओं की शादी में पचास हज़ार से लेकर एक लाख तक की मदद को प्रमुखता दी गई।

प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर महिलाओं को पंचायती में पचास प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा।

किसानों को बिजली बिल हाफ़ किया जाएगा।

9 से 12 क्लास तक के बच्चों को मुफ़्त साइकल दिया जाएगा।

शुगर मिलों को बेहतर स्थिति में लाने करने पर काम करेंगे।

फूड सिक्योरिटी बिल पर काम करेंगे।

राज्य को सांप्रदायिक और बांटने वाली ताकतों से रक्षा करेंगे।

राज बब्बर को यूपी कांग्रेस का अध्यक्ष

राजबब्‍बर बोले- सभी का रखा गया ध्‍यान

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि घोषणापत्र में कांग्रेस पार्टी की प्रतिबद्धता है। किसान यात्रा के दौरान समस्याओं को राहुल ने जाना, उन समस्याओं को लेकर घोषणापत्र बनाया गया। कांग्रेस के घोषणापत्र में सभी का ध्यान रखा गया।

अमित शाह
बीजेपी ने घोषणापत्र को संकल्‍प पत्र का नाम दिया

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी का घोषणा पत्र 28 जनवरी को जारी किया था। बीजेपी ने उत्तर प्रदेश के लिए घोषणापत्र को संकल्प पत्र के नाम से जारी किया था।

संविधान के नियमों के तहत राम मंदिर के निर्माण का प्रयास।

सभी कॉलेजों में मुफ्त वाई फाई की सुविधा।

अगले 5 साल में हर गांव में 24 घंटे बिजली की सुविधा।

लैपटॉप के साथ-साथ एक जीबी डाटा भी।

भूमाफियाओं के खिलाफ टास्क फोर्स का ऐलान।

बुंदेलशंड के विकास के लिए बुंदेलखंड विकास बोर्ड के गठन की बात।

हर जिले में महिला पुलिस स्टेशन बनाने की घोषणा।

गरीब घर में बेटी के जन्म पर 5000 रुपए की मदद।

विधवा पेंशन के लिए उम्र की सीमा खत्म करने का ऐलान।

स्नातक तक लड़कियों व 12वीं तक लड़कों के लिए मुफ्त शिक्षा।

पर्यटन स्थलों के लिए हेलिकॉप्टर सेवा और मेट्रो का विस्तार।

सीएम अखिलेश

सपा: सभी वर्ग को साधने की कोशिश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार 22 जनवरी को सपा का घोषणा पत्र जारी किया था। इस विधानसभा चुनावों में अपना घोषणा पत्र जारी करने वाली सबसे पहली पार्टी सपा ही थी। सपा के इस कार्यक्रम की खास बात यह रही कि पहली बार पार्टी का घोषणा पत्र मुलायम सिंह की गैरमौजूदगी में जारी हुआ था। घोषणा पत्र जारी करते समय अखिलेश के साथ उनकी पत्नी और सांसद डिंपल यादव, मंत्री आजम खान के साथ तमाम अन्य मंत्री और नेता शामिल थे।

समाजवादी किसान कोष की स्थापना।

एक करोड़ लोगों को 1 हजार मासिक पेंशन।

प्राइमरी स्कूल में बच्चों को एक लीटर घी।

– असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए योजना

अल्पसंख्यकों के कौशल विकास पर जोर।

गरीब महिलाओं को प्रेशर कुकर।

महिलाओं के लिए रोडवेज बस में आधा किराया।

गांव में 24 घंटे बिजली पहुंचाने का काम।

गांव में जानवरों के इलाज के लिए एंबुलेंस।

हर जिले को फोरलेन से जोड़ने की तैयारी।

समाजवादी लैपटॉप योजना।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button