ठन-ठन गोपाल हुई कांग्रेस, लाखों की पी गए चाय और पैसे भी नहीं चुकाए

0

कांग्रेस के पासमुंबई। पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले ने जहां आम जनता को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस की आर्थिक स्थिति इतनी बदतर हो गई है कि अब कांग्रेस के पास चाय पीने के पैसे नहीं बचे हैं। कांग्रेस संगठन की मालदार इकाई मानी जाने वाली मुंबई कांग्रेस को अब अपने उधार चुकाने में भी दिक्कतें आ रही हैं।

कांग्रेस के पास चाय पीने के पैसे तक नहीं

इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कांग्रेस के पास चाय वाले का 2 लाख रुपए बकाया है और उसे चुकाने में असमर्थ है। अब चाय वाले ने मुंबई कांग्रेस कमेटी कार्यालय में चाय देने से मना कर दिया है। साल 2014 के बाद से कांग्रेस केंद्र और महाराष्ट्र में सत्ता से बेदखल हो चुकी है। इन दोनों ही जगहों से सत्ता से बाहर होने के कारण आर्थिक समस्या सामने आई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आजाद मैदान स्थित मुंबई विभागीय कांग्रेस कमेटी का दफ्तर है जिसे राजीव गांधी भवन नाम दिया गया है। इसके पीछे इंदर जोशी नाम का एक चाय वाला अपनी दुकान चलाता है। पार्टी अधिकारी और कार्यकर्ताओं के बीच इंदर की चाय को काफी पसंद किया जाता है।

एक अधिकारी की लापरवाही है वजह

इंदर का दावा है कि कांग्रेस पार्टी के पास उसकी चाय के दो लाख रुपये उधार हैं। कांग्रेस पार्टी ने लंबे समय से चाय के पैसे नहीं दिए हैं। इस वजह से अब हमने भी उन्हें उधारी चाय देना बंद कर दिया है। हालांकि जोशी को उम्मीद है कि उसे पैसे मिल जाएंगे। लेकिन, कब तक मिलेंगे उसे भी नहीं पता।

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने भी स्वीकार किया है कि उनकी पार्टी के पास चाय वाले के पैसा बकाया है। निरुपम के अनुसार, बकाया पैसे का मामला कुछ हफ्ते पहले मेरे संज्ञान में लाया गया था। पार्टी के एक अधिकारी की लापरवाही की वजह से ये पैसे बकाया हो गए।

हमें उस चाय वाले को चार लाख रुपये देने थे, जिसमें से दो लाख रुपये दे दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि करीब चार महीने तक उसे पैसे नहीं दिए गए थे, लेकिन हम बहुत जल्द पूरे पैसे दे देंगे।

loading...
शेयर करें