IPL
IPL

छात्र की खुदकुशी पर मोदी की टिप्पणियां निराशाजनक : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने हाल ही में कहा कि दलित शोध छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणियों से देश को गहरी निराशा हुई है क्योंकि उन्होंने केंद्रीय मंत्रियों स्मृति ईरानी और बंडारू दत्तात्रेय के खिलाफ किसी कार्रवाई का ऐलान नहीं किया।

कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी पर उठाए सवाल

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा कि वेमुला को न्याय दिलाने के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है। हैदराबाद विश्वविद्यालय के छात्र रोहित वेमुला ने अपने निलंबन और छात्रावास से निष्कासन से परेशान होकर रविवार को खुदकुशी कर ली थी।

सुरजेवाला ने कहा, “हम पूरी विनम्रता से प्रधानमंत्री से कहना चाहते हैं कि महज घड़ियाली आंसुओं से न तो वेमुला वापस आएगा और न ही उसे इंसाफ मिलेगा। इंसाफ के लिए, एबीवीपी और भाजपा की दलित विरोधी मानसिकता के खात्मे के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है।”

उन्होंने कहा कि देश का पूरा युवा समुदाय, दलित और वंचित वर्ग मोदी की टिप्पणियों से निराश है।

सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस को उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय श्रम राज्य मंत्री बंडारू दत्तात्रेय को मंत्री पद से बर्खास्त करेंगे और विश्वविद्यालय के कुलपति के खिलाफ भी कार्रवाई करेंगे।

कांग्रेस का कहना है कि स्मृति ने वेमुला की खुदकुशी के मामले में तथ्यों को गलत पेश कर देश को गुमराह किया है। दत्तात्रेय ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय को पत्र लिखा था जिसके बाद वेमुला और चार अन्य दलित छात्रों के निलंबन का दबाव बना। इसलिए इन दोनों मंत्रियों को हटाया जाना चाहिए।

सुरजेवाला ने कहा कि यह उम्मीद भी थी कि प्रधानमंत्री वेमुला के परिजन के लिए मुआवजे और घर के एक सदस्य को नौकरी देने के बारे में ऐलान करेंगे। लेकिन, मोदी ने कुछ नहीं कहा। पूरे देश को इससे निराशा हुई है। मोदी ने कहा था कि उन्हें इस त्रासद घटना से बेहद दुख पहुंचा है। लखनऊ में बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय के छठे दीक्षांत समारोह में वेमुला की खुदकुशी के बारे में बात करते हुए मोदी भावुक हो उठे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button