कांवड़ यात्रा पर डीजीपी के सख्त निर्देश, हेलि‍कॉप्टर और ड्रोन से रखी जाएगी नजर

0

वाराणसी। सावन के महीना शुरू होने वाला है। ऐसे में लगने वाले मेले और कांवड़ यात्रा की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कमिश्नरी सभागार में डीजीपी सुलखान सिंह और प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने मंडल के सभी अधिकारीयों के साथ बैठक की। इस बैठक में उन्होंने फैसला लेते हुए कहा, कि जिस जगह भी इस बार कांवडियों की ज्यादा भीड़ होगी उस जगह पर निगरानी करने के लिए हेलि‍कॉप्टर और ड्रोन कैमरे होंगे।

कांवड़ यात्रा

कांवड़ यात्रा के दौरान बिजली आपूर्ति 24 घंटे रखने के निर्देश

इसके अलावा घाटों पर भी हाई क्वॉलिटी के ड्रोन कैमरे लगाये जायेंगे, जिससे कंट्रोल रूम में बैठे पुलिसकर्मी नजर रख सकेंगे। इतना ही नहीं अतिरिक्त फोर्स, एनडीआरएफ, सीआरपीएफ और पीएससी को भी लगाया जायेगा।

डीजीपी ने सावन के पूरे मेले के दौरान पुलिस को कांवड़ यात्रा को सुरक्षित रखने के साथ-साथ यातायात भी सुचारू रूप से बनाये रखने के निर्देश दिए है। हालांकि इस दौरान स्वयं सेवी संस्थाओं की भी मदद ली जाएगी। इसके अलावा घाटों और मंदिरों पर भी कोई दुर्घटना न हो इसकी सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं। चेकिंग अभियान भी चलाये जा रहे हैं।

प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने बताया कि कांवडियों के रूट पर बिजली आपूर्ति 24 घंटे रखने के भी निर्देश दिए गए हैं, ताकि किसी भी तरह की अव्यवस्था न होने पाए। इसके अलावा सड़कों पर पेयजल की सुविधा भी मुहैया कराने के लिए विभाग को निर्देश दिए गए है।

कांवड़ यात्रा में किसी भी तरह के अश्लील या आपत्तिजनक गाने बजाना सख्त मना किया गया है। ये पूरी तरह से गैरक़ानूनी होगा। रेलवे के अधिकारियों से बातचीत हुई है कि गाड़ियों को बदलने की सूचना तत्काल एनाउंस न करें। भगदड़ की संभावना बनती है।

इधर रोडवेज के अफसरों को भी कड़े निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने ड्राइवर से कह दें, कि कांवडियों के साथ कोई भी गलत तरीके से बातचीत न करे न ही कोई दुर्घटना होने पाए। इसके साथ ही रूट पर मेडिसिन की भी व्यवस्था की जाये।

loading...
शेयर करें