काजोल को बस कुछ पल की ही संतुष्टि मिलती है

0

मुंबई| फिल्मों में अपने अभिनय के लिए पिछले कुछ वर्षो में कई पुरस्कार प्राप्त कर चुकीं अभिनेत्री काजोल ने कहा कि पुरस्कार महज क्षण मात्र की संतुष्टि देते हैं और उन्हें इसकी चाहत नहीं है। काजोल को फिल्म उद्योग में उनके काम के लिए वर्ष 2011 में देश के चौथे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
काजोल

काजोल बोलीं, मुझे पुरस्कार की चाहत नहीं

अभिनेत्री ने  कहा, “मुझे पुरस्कार की चाहत नहीं है। मैंने कभी पुरस्कार के लिए प्रार्थना नहीं की। पुरस्कार लेने पर लोगों के समूह के सामने ऊंचाई पर खड़े होना है। यह महज कुछ पल की संतुष्टि देते हैं। पांच साल बाद यह आपकी सेल्फ पर एक मूर्ति की तरह रखा होता है। हां, लोग इसे याद रखते हैं, इससे ज्यादा कुछ नहीं।”

‘दिलवाले’ अभिनेत्री का मानना है कि फिल्में बनाना हमेशा एक कठिन प्रक्रिया है।

loading...
शेयर करें