कार्यस्थलों पर लैंगिक असमानता खत्म होने का काफी फायदा : संयुक्त राष्ट्र

0

संयुक्त राष्ट्र।  संयुक्त राष्ट्र एजेंसी की एक नई रिपोर्ट के मुताबिक, कार्यस्थलों पर लैंगिक अंतर समाप्त करना समाज व अर्थव्यवस्था दोनों के लिए फायदेमंद हो सकता है। संयुक्त राष्ट्र अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (आईएलओ) ने बुधवार को जारी रिपोर्ट में कहा, “कार्यस्थलों पर 2025 तक 25 फीसदी तक लैंगिक असमानता को कम करने से वैश्विक अर्थव्यवस्था 5 खरब डॉलर निवेश हो सकता है और इससे कर राजस्व में वृद्धि हो सकती है।”

कार्यस्थलों पर लैंगिक अंतर

कार्यस्थलों पर लैंगिक अंतर समाप्त करना होगा फायदेमंद

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने रिपोर्ट के हवाले से कहा, “श्रम बाजार में पहले ही महिलाओं की हिस्सेदारी काफी कम है, लेकिन उनके लिए अपने पुरुष समकक्षों की तुलना में काम पाना अभी भी काफी मुश्किल है।” इसमें कहा गया, “इसके लिए श्रम बाजार में पहुंच के लिए महिलाओं की मदद करना एक महत्वपूर्ण कदम होगा।”

संयुक्त राष्ट्र संस्था के अनुसार, महिलाओं के लिए 2017 में वैश्विक श्रमशक्ति भागीदारी दर करीब 49 फीसदी होने का अनुमान है, यह पुरुषों की तुलना में करीब 27 फीसदी कम है। इस आंकड़े के 2018 में भी अपरिवर्तित रहने की उम्मीद है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि समान कार्य के लिए समान भुगतान को बढ़ावा देने, व्यवसायिक अलगाव के मूल कारणों से निपटने और काम पर हिंसा व उत्पीड़न समाप्त करने की जरूरत पर बल दिया गया है।

loading...
शेयर करें