18 साल बाद अंतर्राष्ट्रीय अदालत में आमने-सामने नजर आएंगे भारत-पाकिस्तान

0

नई दिल्ली: भारत की अपील पर इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस (आईसीजे) में  सोमवार को पाकिस्तान में मौत की सजा पा चुके कुलभूषण जाधव मामले की सुनवाई की जाएगी। इस सुनवाई के साथ ही कल कुछ ऐसा देखा जाएगा जो पिछले 18 साल पहले देखा गया था। दरअसल, भारत और पाकिस्तान 18 साल बाद एक बार फिर आईसीजे में आमने-सामने होंगे।

कुलभूषण जाधव

कुलभूषण जाधव मामले की सुनवाई सोमवार को

पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने पिछले महीने कुलभूषण जाधव पर जासूसी करने और विनाशक गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए मौत की सज़ा सुनाई थी।वहीं जाधव के परिवार के वीज़ा अपील पर भी पाकिस्तान की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई हैं। जाधव को पिछले साल 3 मार्च को गिरफ्तार किया गया था।

भारत ने 8 मई को आईसीजे में याचिका दायर कर 46 साल के कुलभूषण जाधव के लिये न्याय की मांग की थी। भारत का कहना है कि पाकिस्तान ने पूर्व नौसैनिक अधिकारी से दूतावास संपर्क के लिये दिये गये 16 आवेदनों की अनदेखी कर वियना संधि का उल्लंघन किया है।

सोमवार को मामले की सुनवाई हेग की अदालत करेगी। नीदरलैंड्स के हेग में संयुक्त राष्ट्र के प्रधान न्यायिक अंग आईसीजे के पीस पैलेस के ग्रेट हॉल ऑफ जस्टिस में जन सुनवाई होगी जहां विवादित जाधव मामले पर दोनों पक्षों से अपना पक्ष रखने को कहा जाएगा।

 

 

 

loading...
शेयर करें