केंद्रीय विद्यालय में Admission Form मिलने शुरु

देहरादून। आगामी शिक्षा सत्र के लिए केंद्रीय विद्यालयों में आज से दाखिला फार्म मिलने शुरु हो गए हैं। देहरादून में 11 केंद्रीय विद्यालयों की कक्षा एक की कुल 1120 सीटों पर छात्र-छात्राओं को दाखिले का मौका मिलेगा। सभी केंद्रीय विद्यालय से पंजीकरण फॉर्म मुफ्त में लिए जा सकते हैं। इसके अलावा ऑनलाइन भी फॉर्म डाउनलोड किए जा सकते हैं। केंद्रीय विद्यालय के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक संभाग के सभी केंद्रीय विद्यालयों में कक्षा एक के लिए पंजीकरण फॉर्म आज से मिलने शुरु हो गए हैं। 10 मार्च की शाम पांच बजे तक पंजीकरण फॉर्म भरकर संबंधित केंद्रीय विद्यालय में जमा किया जा सकता है। इस साल केंद्रीय विद्यालय अपर कैंप में भी सीटों की संख्या 80 से बढ़कर 120 हो गई है।

ये भी पढ़ें – उत्तराखंड शिक्षा विभाग का कारनामा, मृत शिक्षक को दिया प्रमोशन

केंद्रीय विद्यालय 1

केंद्रीय विद्यालय में कुल कितनी सीटें

केंद्रीय विद्यालय – सीटों की संख्या

ओएफ डी –         120

ओएलएफ –        80

आईआईपी –       40

आईटीबीपी –       120

ओएनजीसी –      80

एफआरआई –      80

आईएमए –          160

बीरपुर –               120

अपर कैंप –           120

हाथी बड़कला 2 –   80

हाथी बड़कला 1 –   120

ये भी पढ़ें – उत्तराखंड में होगी तीन देशों की यूनेस्को वर्ल्ड हैरिटेज

केंद्रीय विद्यालय 4

केंद्रीय विद्यालय मे यह कागज देने होंगे

कक्षा एक में बच्चों को दाखिला दिलाने के लिए आयु के प्रमाण को दिखाने के लिए बर्थ सर्टिफिकेट, पते का प्रमाण समेत देना होगा। अगर बच्चे का अभिभावक किसी केंद्रीय या राज्य विभाग में काम करता है तो उसका भी प्रमाण देना होगा। ट्रांसफर के मामले की जानकारी भी विभाग के लेटर हेड पर देनी जरूरी है।

इन नियमों के तहत होंगे दाखिले

लॉटरी प्रक्रिया – इस नियम का इस्तेमाल वरीयता क्रम निर्धारित होने के बावजूद ज्यादा आवेदक होने पर किया जाता है। एक डिब्बे से भाग्यशाली बच्चे का नाम निकालकर चयन किया जाता है।

दूरी का नियम – एक सीट पर ज्यादा दावेदार होने की सूरत में केंद्रीय विद्यालय के निकटतम दावेदार को वरीयता दी जाती है।

उम्र का नियम – इस नियम के तहत एक सीट पर एक से ज्यादा दावेदार होने पर उस अभ्यर्थी को वरीयता दी जाएगी जो कि प्रमाण पत्रों में दी गई जन्मतिथि के मुताबिक ज्यादा उम्र का होगा।

इकलौती कन्या संतान नियम – इसके तहत हर केंद्रीय विद्यालय में दो सीटें उन बच्चों के लिए आरक्षित रखी जाती हैं जो कि अभिभावकों की इकलौती कन्या संतान हों। इसका लाभ लेने के लिए अभिभावकों को शपथ पत्र भी देना होगा।

यह है वेबसाइट : www.kvsangathan.nic.in

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button