खुशखबरी :  हज कोटे के साथ ही आवेदन तिथि भी बढ़ी

0

देहरादून। उत्तराखंड से पवित्र हज की यात्रा पर जाने वाले हाजियों के लिए केंद्रीय हज कमेटी की ओर से एक बड़ी खुशखबरी है। केंद्रीय हज कमेटी ने प्रदेश के हाजियों को सौगात देते हुए उनका कोटा बढ़ाकर लगभग दोगुना कर दिया है। इसके साथ ही हज यात्रा आवेदन फार्म जमा करने की अंतिम तिथि 8 फरवरी से बढ़ाकर 15 फरवरी कर दी है। राज्य हज समिति के चेयरमैन हाजी राव शेर मोहम्मद ने बताया कि केंद्रीय हज कमेटी ने वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर हज कोटे को 772 से बढ़ाकर 1407 कर दिया है। इस घोषणा से अब और ज्यादा लोगों को प्रदेश से हज करने का मौका मिल सकेगा। हज समिति के अध्यक्ष ने इस फैसले पर खुशी जताते हुए केद्र सरकार, सेंट्रल हज कमेटी और सीएम हरीश रावत सभी को धन्यवाद दिया है और आभार भी जताया है।

ये भी पढ़ें – इस राज्य में प्रत्येक बच्चा पैदा होते ही 32 हजार का कर्जदार

केंद्रीय हज कमेटी 3

केंद्रीय हज कमेटी ने किया कोटा दोगुना

केंद्रीय हज कमेटी ने पिछले साल ही प्रदेश का कोटा 835 से घटाकर 772 यात्री कर दिया था। लेकिन वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर जो नया कोटा प्रदेश को दिया गया है, उसमें कोटा पहले से लगभग दोगुना हो गया है। इसके साथ ही केंद्रीय हज कमेटी ने हज पर जाने की आवेदन की तिथि भी बढ़ा दी है। सोमवार शाम 5 बजे तक प्रदेश में कुल 3761 हज यात्रियों ने आवेदन फार्म जमा किए थे।

इस संबंध में हज अधिकारी नफीस अहमद ने कहा कि सोमवार शाम तक आरक्षित श्रेणी के 1277 आवेदन जमा हुए थे। इनमें 70 साल की उम्र के लोगों के 378 आवेदन, लगातार चार बार से फार्म भर रहे 558 और पांच बार से फार्म भरने वाले 341 लोगों ने आवेदन दिए हैं।

ये भी पढ़ें – हज पर जाने के लिए एक नया फतवा

केंद्रीय हज कमेटी 4

2084 लोगों ने किया पहली बार आवेदन

आरक्षित श्रेणी के आवेदकों को सबसे पहले हज यात्रा पर जाने का मौका दिया जाएगा। 2484 लोगों ने पहली बार हज यात्रा पर जाने के लिए आवेदन दिया है। इस प्रकार अभी तक कुल 3761 लोगों ने आवेदन फार्म जमा किए हैं। आवेदकों से कहा गया है कि जल्द से जल्द अपना पासपोर्ट बनवा लें। उसी के आधार पर उनको यात्रा संबंधी ट्रेनिंग और किट दी जाएगी साथ ही टीकाकरण भी किया जाएगा।

loading...
शेयर करें