केरल में राज्यसभा सीट के लिए कांग्रेसी नेता एक-दूसरे का पत्ता काटने में जुटे

तिरुवनंतपुरम। केरल में राज्यसभा की एक सीट के लिए उम्मीदवार तय करने को लेकर कांग्रेस के भीतर खींचतान शुरू हो गई है। इस सीट के लिए चुनाव जून में होना है। राज्य से राज्यसभा के तीन सदस्य जो सेवानिवृत्त होंगे, उसमें राज्यसभा के उपसभापति व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी.जे.कुरियन, माकपा नेता सी.पी.नारायण व केरल कांग्रेस (मणि) के जॉय अब्राहम शामिल हैं।

केरल विधानसभा में कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष की ताकत के दम पर कांग्रेस सिर्फ एक सीट पर जीत सकती है, और इस एक सीट पर कांग्रेस में अत्यधिक खींचतान मची हुई है। इसमें कुरियन (77) का नाम सबसे आगे है और गांधी परिवार के साथ नजदीकी होने के कारण उनके मनोनीत होने की संभावना सबसे ज्यादा है।

हालांकि, केरल में पार्टी पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी और नेता प्रतिपक्ष रमेश चेन्निथला के बीच बंटी हुई है। दोनों गुट यह सुनिश्चित करने में जुटे हैं कि कुरियन को यह सीट नहीं मिले। केरल में कांग्रेस के विभिन्न गुटों द्वारा समान रूप से सीटों व पदों को साझा किया गया है।

चांडी चाहते हैं कि यह सीट उनके करीबी सहयोगी बेन्नी बेहनान को मिले, जो 2016 में विधानसभा चुनाव हार गए थे।इस सीट पर वरिष्ठ नेता पी.सी.चाको की भी नजर है, जो 2014 का लोकसभा चुनाव हार गए थे।

Related Articles