बीजेपी का बड़ा ऐलान, राम मंदिर अब नहीं होगा चुनावी मुद्दा

0

लखनऊ। यूपी बीजेपी के नए अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को कहा, ‘भगवान राम और अयोध्या का राम मंदिर आस्था का मुद्दा है, राजनीति का नहीं। अगले साल यूपी के विधानसभा चुनाव में विकास हमारा मुद्दा रहेगा। राम मंदिर के मुद्दे पर यूपी में भाजपा चुनाव नहीं लड़ेगी।’ केशव प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को बतौर बीजेपी अध्यक्ष पहली प्रेस कांफ्रेंस में यह बयान देकर चुनावी रणनीति साफ कर दी। लेकिन यह पहला मौका है, जब भाजपा ने राम मंदिर को चुनावी मुद्दा न बनाने का ऐलान किया हो।

केशव प्रसाद मौर्य

केशव प्रसाद मौर्य की पहली प्रेस कांफ्रेंस

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि हम सपा-बसपा मुक्त उत्तर प्रदेश और कांग्रेस मुक्त भारत बनाएंगे। भाजपा के युवा प्रदेश अध्यक्ष ने दावा ठोंका कि उनकी पार्टी यूपी चुनाव में 265 सीटों पर फतह दिलाएगी। 47 साल के मौर्य ने कहा, ‘यूपी में परिवारवादी पार्टी सपा, जातिवादी-व्यक्तिवादी पार्टी बसपा ने राज किया है। लेकिन अब समय आ गया है कि इन पार्टियों से राज्य को मुक्त किया जाए। यह हमें तय करना है।’

केशव प्रसाद मौर्य ने आरोप लगाया कि केन्द्र ने मिलने वाली सहूलियतों पर सपा सरकार आम लोगों तक नहीं पहुंचने देती। उल्टे आरोप लगाती है कि केन्द्र से मदद नहीं मिल रही है। मौर्य ने कहा कि सूखे से जूझ रहे बुंदेलखण्ड के लोगों को भी भ्रष्टाचार की वजह से केन्द्र की योजनाओं का फायदा नहीं मिल रहा है।

अपनी पहली प्रेस कांफ्रेंस में मौर्य ने अतीत पर भी बात की। यूपी के फूलपुर से सांसद केशव मौर्य के खिलाफ कई क्रिमिनेल केस दर्ज हैं। उन्होंने इस बारे में उठे सवालों पर कहा, ‘मेरे खिलाफ सभी क्रिमिनल केस दरअसल राजनीति से प्रेरित हैं। मैंने पार्टी और कार्यकर्ताओं के लिए संघर्ष किया है। आगे भी करता रहूंगा।’

loading...
शेयर करें