हाईकोर्ट ने ‘क्या कूल हैं हम 3’ पर लगाई रोक

मुंबई। हाईकोर्ट ने आज करीब 203 वेबसाइटों को तुषार कपूर और आफताब शिवदासानी की फिल्म ‘क्या कूल हैं हम 3’ को दिखाने, उसके प्रसारण या आनलाइन उपलब्ध कराने से रोक दिया है। रोक आदेश पारित करते हुए अदालत ने कहा कि याचिकाकर्ता निर्माण कंपनी ‘बालाजी मोशन पिक्चर्स’ ‘‘कापीराइट कानून के तहत संरक्षण की हकदार’’ है।

'क्या कूल हैं हम 3’

‘क्या कूल हैं हम 3’ को देखने के लिए टिकट खरीदें

22 जनवरी को रिलीज हो रही फिल्म के निर्माता ‘बालाजी मोशन पिक्चर्स’ ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करके कहा कि 203 वेबसाइटों, स्थानीय केबल आपरेटरों और अन्य को फिल्म के किसी भी तरह के प्रदर्शन या किसी तरह से लोगों के लिए उपलब्ध कराने से रोका जाए।

अनुरोध स्वीकारते हुए न्यायमूर्ति विपिन सांघी ने वेबसाइटों और स्थानीय केबल आपरेटरों सहित 300 प्रतिवादियों को नोटिस जारी करके उन्हें आदेश का पालन करने का निर्देश दिया।

वहीं दूसरी तरफ तुषार कपूर ने भी सबसे टिकट खरीद कर फिल्म देखने की गुजारिश की है। साथ ही उन्होंने अपने रोल के बारे में कहा है कि किसी भी कलाकार पर ठप्पा लगने का अर्थ है प्रतिभा को स्वीकृति मिलना और इसके चलते उन्हें वयस्क हास्य कलाकार के तौर पर पहचाने जाने से कोई फर्क नहीं पड़ता। लोगों द्वारा उन्हें वयस्क हास्य के लिए पहचाने जाने पर तुषार ने कहा, “मैं खुश हूं कि आखिर लोग पसंद कर रहे हैं। अगर आप पर ठप्पा लगता है तो मुझे लगता है कि यह अच्छा है। इसका अर्थ है कि आपको इस तरह के किरदार के लिए स्वीकृति मिल गई है।”

उन्होंने कहा, “इसका अर्थ है कि कलाकार को इनाम मिला है। इसके लिए दर्शक आपकी फिल्म देखने के लिए टिकट खरीदेंगे, इसलिए इसके यह ठीक है।”

तुषार ‘क्या कूल हैं हम’ और ‘क्या सुपर कूल हैं हम’ जैसी फिल्मों का हिस्सा रहे हैं। हालांकि, उन्हें फिल्म ‘गोलमाल’ पर गर्व है।

उन्होंने कहा, “मैं अपनी फिल्म ‘गोलमाल’ के लिए गर्व महसूस कर रहा हूं। मैं खुश था कि इसमें चार हीरो थे। इस किरदार ने मेरा करियर को बदलकर रख दिया, इसलिए मैं इस फिल्म का आभारी हूं।”

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button