खुशखबरी ! इन जॉब्स में महिलाओं को मिलेगी अच्छी सैलरी

0

नई दिल्ली। सैलरी से जुड़ी सूचना मुहैया कराने वाली कंपनी पेस्केल महिलाओं के लिए एक खुशखबरी लेकर आया है। पेस्केल ने ऐसी जॉब्स के बारे में पता लगाया है। जहां पांच से आठ साल की एक्सपीरियंस महिलायों को अच्छी सैलरी मिलती है। आइये जानते है ऐसी जॉब्स के बारे में जो अच्छी सैलरी प्रोवाइड कराती हैं –

सैलरी

नर्स प्रैक्टिशनर

वे रजिस्टर्ड नर्सें होती हैं जो लाइसेंस प्राप्त फिजिशन की तरह ही कई कामों को अंजाम दे सकती हैं। वे बीमारियों का उपचार और पहचान करने में सक्षम होती हैं और दवाई लिख सकती हैं। उनको करीब 62 लाख रुपये सालाना सैलरी मिलती है।

फिजिशन असिस्टेंट

वे लाइसेंस प्राप्त मेडिकल प्रफेशनल्स होती हैं और क्लिनिक, डॉक्टर के ऑफिस या हॉस्पिटल में काम करती हैं। उनकी औसत सालाना सैलरी करीब 64 लाख रुपये होती है।

अडल्ट नर्स प्रैक्टिशनर

वे 21 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को चिकित्सा सेवा मुहैया कराती हैं। उनकी औसत सालाना सैलरी करीब 63 लाख रुपये होती है।

सीनियर क्लिनिकल रिसर्च असोसिएट

दवाएं के निर्माण के दौरान जब उनकी क्लिनिकल जांच का दौर चल रहा होता है, उसे दौरान उनके जिम्मे रोजाना के ऑपरेशंस को हैंडल करना होता है। इस फील्ड में औसत वेतन करीब 61 लाख रुपये है।

रेग्युलेटरी अफेयर्स मैनेजर

वे प्रॉडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग, टेस्टिंग, मार्केटिंग और विश्वसनीयता से संबंधित कंपनी की आंतरिक नीतियों की समीक्षा करती हैं ताकि वे इस्तेमाल करने में सुरक्षित हों और सही से काम करें। उनका सालाना सैलरी करीब 60 लाख रुपये होता है।

कैटिगरी मैनेजर

इनके जिम्मे स्टोर में प्रॉडक्ट्स की लेआउट तय करने का काम होता है। इस सेक्टर में 42 फीसदी महिलाएं कार्यरत हैं और औसत वेतन 59 लाख रुपये सालाना है।

सीनियर ऑपरेशंस प्रॉजेक्ट मैनेजर

वे बड़ी कंपनियों या फर्मों की अहम सीनियर पदों पर भर्ती करती हैं। इस फील्ड में 42 फीसदी महिलाएं कार्यरत हैं और इनको भी करीब 60 लाख रुपये सालाना का पैकेज मिलता है।

यूजर एक्सपीरियंस रिसर्चर्स

इस फील्ड में 65 फीसदी महिलाएं कार्यरत हैं और उनकी औसत सालाना सैलरी करीब 60 लाख रुपये है। इनको कंप्यूटर प्रोग्राम को और बेहतर बनाने के लिए रिसर्च करना होता है ताकि यूजर को काफी संतोष मिले और ब्रैंड के प्रति लोगों में आकर्षण बढ़े।

 

loading...
शेयर करें