चीन को मिली ISIS की धमकी, अब बहेंगी खून की नदियां

0

बीजिंग। खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस के एक वीडियो ने इन दिनों चीन को काफी डरा कर रखा हुआ है। आईएसआईएस के आतंकियों ने कसम खाई है कि चीन के उइग्‍यूर समुदाय के लोग अपने घर जरूर लौटेंगे और यहां पर खून की नदियां बहेंगी।’ अमेरिका स्थित साइट इंटेलीजेंस ग्रुप की ओर से इस मैसेज को ट्रैक किया गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि इसके साथ ही यह पहला मौका है जब चीन को निशाना बनाने की बात कही गई है।

खून की नदियां

खून की नदियां बनाने की धमकी के बाद जारी किया वीडियो

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईएसआईएस की ओर से यह धमकी आधे घंटे के एक वीडियो में दी गई है जिसे सोमवार को जारी किया गया है। वेस्‍टर्न इराक में मौजूद आईएसआईएस की एक शाखा की ओर से यह धमकी दी गई है। वीडियो में चीन के उइग्‍यूर प्रांत के आतंकी नजर आ रहे हैं। साइट ने ही इस फुटेज को एनालाइज किया है। चीन पिछले कई वर्षों से उइग्‍यूर के अलगाववादियों को इसके पश्चिमी शिनजियांग प्रांत में जारी हमले के लिए दोष देता आ रहा है।

चीन ने चेतावनी भी दी है कि इस प्रांत में मौजूद संगठनों का दुनियाभर के जेहादी संगठनों से ताल्‍लुक हो सकता है। वीडियो में उइग्‍यूर आतंकी चीन को धमकी देने के साथ ही एक जासूस को मारते हुए नजर आ रहे हैं। वीडियो में आतंकी कह रहे हैं, ‘तुम चीनी लोग नहीं समझोगे हमारे लोग क्‍या कहते हैं। हम खलीफा के सैनिक हैं और हम तुम तक पहुंचकर रहेंगे और यहां पर खून की नदियां बहा देंगे।’

15 फरवरी को हुआ था आतंकी हमला

शिनजियांग प्रांत के पिशान में 15 फरवरी को एक आतंकी हमला हुआ था जिसमें आतंकवादियों ने चाकू से लोगों पर हमला किया। इस हमले में पांच लोग घायल हुए और इतने ही लोगों की मौत हो गई थी। चीन के शिनजियांग में यह पहला मौका नहीं था जब इस तरह का कोई आतंकी हमला हुआ है। शिनजियांग चीन का एक मुस्लिम आबादी वाला क्षेत्र है और यहां पर हुआ यह हमला सबसे ताजी घटना है जिसने चीन की नींद उड़ा दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिशान काउंटी को आतंकवादियों का अड्डा माना जाता है और यहां पर तीन वर्ष पहले एक सुसाइड अटैक भी हो चुका है। मई 2014 में हुए उस हमले में पिशान के चार लोगों शिनजियांग की प्रांतीय राजधानी उमयूम्‍की की बाजार में हमला किया था। हमले में 39 लोगों की मौत हुई थी और करीब 100 लोग जख्‍मी हो गए थे। यहां पर मौजूद मुसलमान अलगाववादियों को सरकार हिंसक हमलों के लिए जिम्‍मेदार मानती है।

loading...
शेयर करें