IPL
IPL

गणतंत्र दिवस 2016: राज्यपाल ने की अमन और चैन की कामना

लखनऊ। गणतंत्र दिवस 2016 के मौके पर राजधानी लखनऊ में गवर्नर राम नाईक ने विधानभवन और राजभवन पर झंडा फहराया और परेड की सलामी ली। इस मौके पर यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत कई कैबिनेट मंत्री, मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव गृह, डीजीपी समेत शासन के कई अफसर मौजूद रहे। इस अवसर पर विधान सभा के सामने से झांकी निकाली गई। झांकी देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। झांकियों देखकर हर कोई दंग रह गया। सीएमएस, एलडीए और आवास विकास और नगर निगम की झांकियां भी कम आकर्षित नहीं थी। सेना ने भी अपने अत्याधुनिक टैंकरों का भी प्रदर्शन किया। गणतंत्र दिवस पर स्कूली बच्चों ने पेश किया रंगारंग कार्यक्रम।

गणतंत्र दिवस 2016

गणतंत्र दिवस 2016: राज्यरपाल ने की चैन की कामना

गणतंत्र दिवस पर राज्यपाल राम नाईक ने अपने संबोधन में देश के लिए अमन और चैन की कामना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। इसके सर्वांगीण विकास के लिए युवाओं को आगे आना होगा। राज्यपाल ने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई भी दी।

गणतंत्र दिवस परेड देखने को उमड़ी भीड़
विधानसभा मार्ग पर गणतंत्र दिवस परेड को देखने के लिए लाखों की संख्या में लोग पहुंचे थे। इस मौके पर स्कूली बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर लोगों का मन मोह लिया। हर बार की भांति परेड और झांकियां रेलवे स्टेडियम चारबाग से केकेसी तिराहा, गुरु गोविंद सिंह तिराहा, हुसैनगंज चौराहा, रायल होटल चौराहा और विधानसभा के सामने से होते हुए हजरगंज चौराहा से अल्का तिराहा, मेफेयर और हिंदी संस्थान तिराहा होते हुए केडी सिंह बाबू स्टेडियम तक निकली।

डीजीपी ले रहे थे सुरक्षा का जायजा
सुरक्षा एजेंसियों से मिले इनपुट और तीन इस्लामिक स्टेट सस्पेक्ट्स की गिरफ्तारी के बाद डीजीपी जावीद अहमद ने सोमवार को खुद भी सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया उनके साथ आईजी और अन्य आला अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे। उन्होंने पुलिस अधिकारियां को चौकन्ना रहने और किसी भी तरह की ढिलाई ने बरतने की हिदायत भी दी।

हिन्दुस्तां से बेहतर किसी देश का संविधान नहीं
सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने मंगलवार को 67वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर पार्टी मुख्यालय पर तिरंगा फहराया। इस मौके पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सपा मुखिया ने देश के संविधान को सबसे अच्छा बताया। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान के संविधान से बेहतर किसी भी देश का संविधान नहीं। देश के संविधान में सभी के लिए बराबर का अधिकार दिया गया है जो इसकी विशेषता है संविधान में हम बदलाव चाहते थे लेकिन पीएम ने नहीं होने दिया। महिलाओं को पहले दबाकर रखा गया था लेकिन आज महिलाएं देश में स्वतंत्र हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button