‘मन की बात’ में पीएम मोदी बोले मै बनूंगा पोस्टमैन

0

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गर्भावस्था संबंधी मौतों और अन्य जटिलताओं पर चिंता जताते हुए रविवार को कहा कि देश के सरकारी अस्पतालों और अन्य सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर जरूरतमंद गर्भवती महिलाओं को नि:शुल्क चिकित्सा सहायता प्रदान की जाएगी।

गर्भवती महिलाओं को

गर्भवती महिलाओं को नि:शुल्क चिकित्सा

‘मन की बात’ कार्यक्रम के दौरान देश को संबोधित करते हुए मोदी ने देशभर के चिकित्सकों से अपने क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं को महीने में एक बार नि:शुल्क चिकित्सा सहायता प्रदान करने के सरकार के मिशन में शामिल होने की अपील की।

मोदी के अनुसार, “भारत सरकार ने ऐसी महिलाओं की मदद के लिए एक मिशन शुरू किया है। कई चिकित्सकों ने पहले ही मुझे इसके लिए लिखित स्वीकृति दी है, लेकिन हमें अधिक चिकित्सकों की आवश्यकता होगी।”

उन्होंने कहा कि हर महीने की नौ तारीख को सरकारी अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं की नि:शुल्क जांच की जाएगी और उन्हें चिकित्सा सहायता प्रदान की जाएगी।

क्या बोले पीएम मोदी

1.मेरे प्यारे देशवासियो, नमस्कार. आज सुबह-सुबह मुझे दिल्ली के नौजवानों के साथ कुछ पल बिताने का अवसर मिला।
2.मैं मानता हूं कि आने वाले दिनों में पूरे देश में खेल का रंग हर नौजवान को उत्साह-उमंग के रंग से रंग देगा।
3.कुछ ही दिनों में विश्व का सबसे बड़ा खेलों का महाकुम्भ होने जा रहा है. रियो हमारे कानों में बार-बार गूंजने वाला है।
4.हमारी आशा-अपेक्षाएं तो बहुत होती हैं, लेकिन रियो में जो खेलने के लिये गए हैं, उनका हौसला बुलंद करने का काम भी देशवासियों का है।

5. हम भी आने वाले दिनों में, जहां भी हों, हमारे खिलाड़ियों को प्रोत्साहन के लिये कुछ-न-कुछ करें।

6. यहां तक जो खिलाड़ी पहुंचता है, वो बड़ी कड़ी मेहनत के बाद पहुंचता है. एक प्रकार की कठोर तपस्या करता है।

7. हम सभी देशवासी रियो ओलंपिक के लिए गए हुए हमारे सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दें।

8. आप मुझे ‘NarendraModi App’ पर खिलाड़ियों के नाम शुभकामनाएं भेजिए, मैं आपकी शुभकामनाएं उन तक पहुंचाऊंगा. गत सप्ताह      अब्दुल कलाम जी की पुण्यतिथि पर देश और दुनिया ने श्रद्धांजलि दी।

9.अब्दुल कलाम जी का नाम आता है तो साइंस, टेक्नोलॉजी, मिसाइल- भावी भारत के सामर्थ्य का चित्र हमारी आंखों के सामने अंकित हो         जाता है।
10. अगर रिसर्च और इनोवेशन नहीं होंगे, तो जैसे ठहरा हुआ पानी गंदगी फैलाता है, टेक्नोलॉजी भी बोझ बन जाती है।

11. एंटीबायोटिक की जो दवाइयां बिकती हैं, उसका जो पत्ता रहता है, उसके ऊपर लाल लकीर से आपको सचेत किया जाता है, आप उस पर           जरूर ध्यान दीजिए।
12. मैं आग्रह करता हूँ कि डॉक्टर ने जितने दिन लेने के लिये कहा है, कोर्स पूरा कीजिए,आधा-अधूरा छोड़ दिया, तो जीवाणु के फायदे में               जाएगा।
13. सरकार ने ‘प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व’ अभियान शुरू किया है।
14.इस अभियान के तहत हर महीने की 9 तारीख को सभी गर्भवती महिलाओं की सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों में निशुल्क जांच की जाएगी।

loading...
शेयर करें