गृह मंत्री पर चले जूते, फेंकने वाले ने सरकार को बताया भ्रष्टाचारी

0

गांधीनगर। गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा पर गुरुवार को गुजरात विधानसभा में जूता फेंका गया। फेंकने वाला शख्स गुजरात के रेवन्यू विभाग में क्लर्क के तौर पर काम करता है। बताया जा रहा है कि उसने गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा पर जूता शराबबंदी ओर भ्रष्टाचार को लेकर अपना आक्रोश जताने के लिए फेंका।

गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा पर जूता

गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा पर जूता फेंकने वाला पकड़ा गया

गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा पर एक के बाद एक जूता फेंकने वाले शख्स का नाम गोपाल इटालिया है, जो कि गुजरात सरकार के धंधुका तहसील मेजिस्ट्रेट के दफ्तर में बतौर रेवन्यु ऑफिसर काम कर रहा है। गोपाल ईटालिया ने जूता मारते हुए जो आक्रोश सरकार के खिलाफ जताया है वह यही था कि ये सरकार भ्रष्टाचारी है और शराबबंदी यहां सिर्फ कागजों पर ही है। जूता मारने के साथ ही पुलिस ने उसे दबोच लिया और अपने साथ पूछताछ के लिए लेकर गई।

बीजेपी ने बताया कांग्रेस की साजिश

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और गांधीनगर से विधायक जीतू वाधानी ने इसे कांग्रेस की एक चाल बताया और जूता मारने के लिए सीधा-सीधा कांग्रेस पर आरोप लगा दिया।

पुलिस बता रही मानसिक बीमार

दिलचस्प बात तो यह है कि ये वही शख्स है जिसने इससे पहले डिप्टी मुख्यमंत्री नितिन पटेल को कॉन्ट्रैक्ट वेज पर सरकार में काम करने वाले कर्मचारी को फिक्स पे से हटाकर नियमित करने के मुद्दे को लेकर ऑडियो वायरल किया था। उस मामले में पुलिस ने पूछताछ के बाद इसे छोड़ दिया था। जूते फेंकने कि इस वारदात को लेकर पुलिस का कहना है कि ये शख्स मानसिक तौर पर बीमार है। गांधीनगर के आई. जी. आर. बी. ब्रह्मभट्ट ने उसे मानसिक बीमार बताया।

कांग्रेस का पलटवार

कांग्रेस पर लगे आरोपों पर पलटवार करते हुए कांग्रेसी नेता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा राज्य में 20 सालों से बीजेपी सत्ता में है लेकिन युवा की इस हालत के लिए जिम्मेदार कांग्रेस को बताया जा रहा है।

loading...
शेयर करें