गुरमेहर कौर की देशभक्ति पर दंगल जारी, कोई उड़ा रहा मजाक तो कोई दे रहा साथ

0

नई दिल्ली। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के खिलाफ ऑनलाइन अभियान छेड़ने वाली दिल्ली विश्वविद्यालय की स्टूडेंट गुरमेहर कौर के समर्थन में पूरा बॉलीवुड उतर आया है। वहीं शहीद की बेटी को रेप की धमकी देने वालों की तलाश जारी है। गुरमेहर कौर के पिता कारगिल युद्ध में शहीद हुए थे।

DU की स्टूडेंट गुरमेहर

DU की स्टूडेंट गुरमेहर की देशभक्ति पर उठ रहे सवाल, सब दे रहे अपनी राय

देशभक्ति के इस दंगल में अनुपम खेर से लेकर जावेद अख्तर तक इस मामले में अपनी राय दे रहे हैं। अनुपम खेर ने कहा है, ‘’असहिष्णु गैंग वापस आ गया है, चेहरे वहीं हैं नारे बदल गए हैं।’

जावेद अख्तर ने कहा, ‘अगर कम पढ़े लिखे खिलाड़ी और पहलवान किसी शहीद की बेटी को ट्रॉल करते हैं तो समझ में आता है, लेकिन कुछ पढ़े-लिखे लोगों को क्या हो गया।’

गुरमेहर कौर ने जंग की विभीषिका की ओर लोगों का ध्यान खींचते हुए पहले कहा था कि उनके पिता को पाकिस्तान ने नहीं बल्कि युद्ध ने मारा है।

इससे पहले भी ‘बढ़ती असहिष्णुता’ की बात उठा चुके जावेद अख्तर ने कहा कि आश्चर्य है कि कैसे रिजिजू जैसे पढ़े-लिखे व्यक्ति ने गुरमेहर के बारे में ऐसी टिप्पणी की।

जावेद अख्तर ने रिजिजू को घेरा

जावेद अख्तर ने ट्वीट किया, “यदि कोई बमुश्किल पढ़ा-लिखा खिलाड़ी या पहलवान शहीद की शांतिवादी बेटी के खिलाफ कुछ बोलता है तो यह समझ में आता है, लेकिन कुछ पढ़े-लिखे लोगों को क्या हुआ है, यह समझ नहीं आता। मैं उस लड़की के बारे में तो नहीं जानता, लेकिन मंत्री जी मैं जानता हूं कि कौन आपके दिमाग को प्रदूषित कर रहा है।”

रिजिजू ने कहा था कि गुरमेहर के दिमाग को वामपंथ प्रदूषित कर रहा है।

उन्होंने कहा, “मंत्री जी आप सैनिक की हत्या पर जश्न का झूठा आरोप लगाते हुए वामपंथ की निंदा कर रहे हैं, लेकिन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के खिलाफ एक शब्द भी नहीं बोलते। पूरी तरह पक्षपातपूर्ण।”

दिल्ली विश्वविद्यालय के रामजस कॉलेज में पिछले हफ्ते की हिंसा के बाद, दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा गुरमेहर कौर ने फेसबुक पर एक तस्वीर साझा किया, जिसमें वह हाथ में एक प्लकार्ड लिए खड़ी हैं। प्लेकार्ड पर लिखा हुआ है, “मैं दिल्ली विश्वद्यिालय की छात्रा हूं। मैं एबीवीपी से नहीं डरती। मैं अकेली नहीं हूं। भारत के सभी विद्यार्थी मेरे साथ हैं।”

इस पोस्ट को सैकड़ों बार शेयर किया गया। कौर ने पोस्टर के साथ एक दूसरी पोस्ट भी साझा की, जिसमें लिखा था, “पाकिस्तान ने मेरे पिता को नहीं मारा, युद्ध ने मेरे पिता को मारा।”

सहवाग ने उड़ाया मजाक

इस पोस्ट का मजाक उड़ाते हुए बाद में सहवाग ने एक प्लेकार्ड लेकर तस्वीर साझा की, जिस पर लिखा था, “मैंने दो तिहरे शतक नहीं लगाए, बल्कि मेरे बल्ले ने ऐसा किया।” और कहा, “बात में है दम! भारत जैसी जगह नहीं।”

अभिनेता रणदीप हुड्डा ने भी सहवाग का समर्थन करते हुए पोस्ट को दोबार साझा किया और गुरमेहर की आलोचना की। उन्होंने बाद में कहा, “गुरमेहर को मोहरा बनाया जा रहा है।”

पूजा भट्ट ने सहवाग और हुड्डा के पोस्ट की निंदा की और ट्वीट किया, “अपने बराबर वालों से इस तरह की बातें करो लड़कों। एक लड़की के लिए यह बिल्कुल अच्छा नहीं है। यह बिलकुल कूल नहीं है।”

पूजा भट्ट दिग्गज फिल्मनिर्माता महेश भट्ट की बेटी हैं। जब उन्हें ट्रोल किया गया तो उन्होंने कहा, “मैं एक कलाकार हूं और राजनीति से ऊपर हूं।”

कई बॉलीवुड हस्तियों ने रखी अपनी राय

अभिनेता रोहित रॉय ने भी सहवाग की टिप्पणी की निंदा की।

उन्होंने कहा, “सब कुछ को मजाकिया बना देना गैर-जिम्मेदाराना है।” उन्होंने यह भी कहा कि वह सहवाग के प्रशंसक रहे हैं।

नसीरुद्दीन शाह ने भी कौर का समर्थन किया है और सहवाग और रणदीप हुड्डा के बयानों को असंवेदनशील करार दिया है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में एबीवीपी के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के बाद बॉलीवुड से ऐसी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। हालांकि, गुरमेहर कौर दुष्कर्म और मौत की धमकियां मिलने के बाद अपने अभियान से पीछे हट गईं हैं।

अभिनेत्री रवीना टंडन ने ट्वीट किया, “दुष्कर्म और मौत की धमकी देने वाले से निपटे जाने की जरूरत। पूर्ण रूप से सहमत”

फिल्मकार अनुभव सिन्हा ने टिप्पणी की, “बेशक, देश विरोधी नागरिकों को बर्दाश्त नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन जो खुद को अनुपयुक्त/असुविधाजनक लगे, उस सबको राष्ट्र विरोधी नहीं कहा जा सकता।”

loading...
शेयर करें