आजाद साहब, ISIS के कैंप में जाइए, लौट आए तो बात करेंगे

0

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने शनिवार को आईएसआईएस और आरएसएस की तुलना करते हुए विवादित बयान दे दिया था। इस बयान पर रविवार को भी बवाल जारी रहा। आरएसएस ने नागौर में हुई राष्ट्रीय बैठक में न सिर्फ अपना ड्रेसकोड बदला, बल्कि गुलाम नबी आजाद के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया भी दी। उन्होंने कहा, ‘सर सहकार्यवाह भैयाजी जोशी ने गुलाम नबी आजाद के बयान को कांग्रेस का बौद्धिक दीवालियापन करार दिया। उन्होंने कहा, उनकी जानकारी का स्तर देख कर दर्द होता है। ऐसा बयान देकर उन्होंने सिर्फ अपना अज्ञान दिखाया है।’

गुलाम नबी आजाद

गुलाम नबी आजाद का विरोध

बात यहीं खत्म नहीं हुई। सोशल मीडिया ने भी आजाद के बयान को आड़े हाथ लिया। ज्यादातर युवाओं के आजाद की प्रतिक्रिया की तीखी अालोचना की। हाल यह हुआ कि ट्विटर पर RSS with ISIS ट्रेंड होने लगा।

@ViragPachpore ने लिखा, ‘आजाद ने दोनों को कंपेयर किया है। उनसे और क्या उम्मीद की जा सकती है। पर उन्हें इस बात को जान लेना चाहिए कि वह भारत में सुरक्षित हैं तो RSS की ही वजह से। ‘

@AnandDubeygkp ने लिखा, ‘RSS और ISIS की तुलना बिल्कुल वैसी है जैसे चंद्रशेखर आजाद की गुलाम नबी आजाद से।’

‎@MyloMegha ने लिखा , ‘हे भगवान, कुछ ईडियट लोगों को माफ करना और मोदी को नफरत करने वालों को बक्श देना। लगता है सारे मेंटल हो गए हैं।’

@MumbaiDiKudi ने ट्वीट करके कहा, ‘गुलाम नबी आजाद, RSS और ISIS की तुलना करने से पहले जाकर एक बार आईएस और RSS के कैंप में रह आओ। अगर ISIS के कैंप से वापस आ गए तो तुम्हें जवाब मिल जाएगा।

loading...
शेयर करें