गुजरात की CM आनंदीबेन पटेल ने अमित शाह को भेजा इस्‍तीफा

0

नई दिल्‍ली। गुजरात की सीएम आनंदीबेन पटेल ने बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह को अपना इस्‍तीफा भेज दिया है। उन्‍होंने सोशल साइट फेसबुक पर रिटायर होने को लेकर एक पोस्‍ट किया था।  फेसबुक पर उन्‍होंने लिखा कि वह मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी से हटना चाहती हैं। उन्होंने पार्टी आलाकमान को चिट्ठी लिखकर इस रिटायरमेंट के बारे में जानकारी देने की बात भी कही है। गुुजरात के नए सीएम को लेकर दिल्‍ली में बैैठकों का दौर शुरु हो गया है।

सीएम आनंदीबेन

गुुजरात के नए सीएम को मिले चुनाव की तैयारी का वक्त

गुजरात की सीएम आनंदीबेन ने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि इस साल नवंबर महीने में वह 75 साल की हो जाएंगी। अगले साल 2017 के आखिर में गुजरात में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। साथ ही हर दो साल पर होने वाले वाईब्रेंट गुजरात समिट भी जनवरी 2017 में ही होने वाला है। इसलिए वह चाहती हैं कि नए आने वाले मुख्यमंत्री को इन सबकी तैयारी का पूरा वक्त मिले।

पार्टी आलाकमान से की दोबारा गुजारिश

आनंदीबेन पटेल ने लिखा है कि उन्होंने दो महीने पहले ही पार्टी के वरिष्ठ नेतृत्व को यह बातें बता दी थीं कि उन्हें मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए। उन्होंने सोमवार को फिर से एक चिट्ठी के जरिए पार्टी के वरिष्ठ नेतृत्व को बताया कि उन्हें मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए। उन्होंने लिखा कि इसके लिए मैं विनती कर रही हूं।

आनंदीबेन के बाद कौन ?

सीएम आनंदीबेन पटेल के जाने के बाद नितिन पटेल का नाम सामने आ रहा है। नितिम पटेल गुजरात में मंत्री भी हैं। इसके अलावा विजय रुपानी और पुरुषोत्तम रुपाला के नाम पर भी पार्टी विचार कर सकती है।

किसने क्या कहा ?

गुजरात में पटेल के आंदोलन का नेतृत्व करने वाले हार्दिक पटेल ने कहा कि ये लोग अपनी जिम्मेदारियों से भाग रहे हैं। बीजेपी अपनी मुसीबत टालना चाहती है।

बीजेपी का अंदरूनी मामला

कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा ने आनंदीबेन के इस्तीफे पर कहा कि ये बीजेपी का अंदरूनी मामला है लेकिन गुजरात को जिस तरह से चलाया जा रहा है वो दुर्भाग्यपूर्ण है। पटेल आंदोलन के बाद से ही यह साफ हो गया कि जिस गुजरात मॉडल की नजीर पेश की जाती थी उसकी कमियां सबके सामने आ गईं थी।

गुुजरात के नए सीएम को लेकर केजरीवाल का ट्वीट

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर लिखा कि आनंदी जी का इस्तीफ़ा गुजरात में “आप” की तेज़ी से बढ़ती लोकप्रियता का नतीजा है। भाजपा गुजरात में बुरी तरह से डरी हुई।

loading...
शेयर करें