मार्निंग वॉक पर निकली लड़की के साथ इतना बुरा होगा किसने सोचा था….

0

लखनऊ। गैंगरेप पर गैंगरेप ……यूपी में गैंगरेप की घटनाओं ने लड़कियों का घर से बाहर निकलना गुनाह बना दिया है। उत्तर प्रदेश के बलिया में कुछ लोगों ने बीए में पढ़ने वाली लड़की के साथ हैवानियत का गंदा खेल खेला। पहले लड़की की इज्जत से खेला और फिर जब मन भर गया तो उसकी दर्दनाक हत्या कर दी। इतना ही नहीं बलात्कारियों ने उसकी गर्दन और हाथों की ऊंगलियां भी काट ली हैं। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला दर्ज कर हत्यारों की तलाश तेज कर दी है। मामला पूरी तरीके से गैंगरेप का लग रहा है।

गैंगरेप

गैंगरेप का शिकार हुई युवती कर रही थी पुलिस की तैयारी

 

स्थानीय हल्दी थानांतर्गत रविवार को तड़के सुबह दौड़ने निकली 22 वर्षीय लड़की का बलात्कार हुआ। उसके बाद उसका गला काटकर फेंक दिया गया। उसके हाथों की ऊंगलियां भी कटी हुईं थीं। उसका शव हाई-वे से कुछ ही मीटर की दूरी पर खेतों में मिला। पुलिस ने दुराचार की भी आशंका जताई है। बताया जा रहा है कि लड़की भरसौता नई बस्ती निवासी शिवशंकर पाल की पुत्री है और पुलिस भर्ती की तैयारी कर रही थी।

वह रोजाना बलिया-बैरिया एनएच पर दौड़ लगाती थी। रविवार को सुबह करीब चार बजे वह अपनी मां के साथ दौड़ने निकली। कुछ दूर जाने के बाद उसने मां को वापस घर भेज दिया और दौड़ते हुए आगे बढ़ गई। सुबह करीब 8 बजे इस घटना की सूचना मिली। जब परिजनों ने लाश देख लोग तो ले घबरा गए और घटना की जानकारी पुलिस को दी। जानकारी के मुताबिक लड़की लाश से पहड़े गायब थे।

पुलिस ने कहा,  ‘आज संडे है कल आना’

 

चकेरी के सनिगवां में एक महिला के साथ गैंगरेप और लूट का मामला सामने आया है। आधी रात के बाद एक निर्माणाधीन घर पर धावा बोल पांच बदमाशों ने पति और बेटी को तमंचे के बल पर बंधक बना लिया और पत्नी से गैंगरेप और लूटपाट की। बदमाश घर में रखे 31  हजार रुपये, बिछिया, पायल, मोबाइल लूट ले गए। पति ने रविवार तड़के पड़ोसी के फोन से 100 नंबर पर सूचना दी। लेकिन पुलिस नहीं पहुंची तब वह सनिगवां चौकी पहुंचा। सनिगवां चौकी इंचार्ज रविशंकर त्रिपाठी ने कहा, आज संडे है कल आना।

loading...
शेयर करें