गैंगेस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी पर विपक्ष समेत कई नेताओं ने ट्वीट कर उठाये सवाल

0

लखनऊ। कानपूर जघन्य हत्याकांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को आज उज्जैन के महा काल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि विकास दुबे को यहां महाकाल पुलिस चौकी क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। इस गिरफ्तारी के बाद भले ही शासन और प्रशासन एक दोसरे की पीठ थपथपाने में लगे हुए हैं।लेकिन अब राजनीतिक प्रतिक्रियाएं लगातार आ रही हैं।

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी वाड्रा इससे पहले भी कानपुर मामले में योगी सरकार को निशाने पर ले चुकी है। विकास दुबे की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस मामले की अब सीबीआई जांच कराने की मांग कर दी है। प्रियंका का कहना है कि सीबीआई जांच से विकास दुबे के सारे कनेक्शन का पता लग जाएगा। इस मामले में प्रियंका ने यूपी पुलिस को पूरी तरह से फेल करार दे चुकी हैं।

इस मामले पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को ट्वीट कर लिखा कि कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, वह पूरी तरह फेल साबित हुई। अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है।

 

कांग्रेस महासचिव ने आगे लिखा कि तीन महीने पुराने पत्र पर ‘नो एक्शन’ और कुख्यात अपराधियों की सूची में ‘विकास’ का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े है। यूपी सरकार को मामले की CBI जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करना चाहिए।

तो वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी योगी सरकार को घेरे में लेते हुए ट्वीट किया, अखिलेश यादव ने कहा कि कानपुर कांड का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है, अगर यह सत्य है तो सरकार साफ करे की ये समर्पण है या गिरफ्तारी। साथ ही साथ उसके मोबाइल की सीडीआर भी सार्वजनिक करें जिससे अपराधी के साथ मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके

loading...
शेयर करें