राम बनकर यूपी में कमल खिलाने आए पीएम मोदी

0

गोरखपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफतौर पर यूपी सरकार के नीतियों की आलोचना करते हुए प्रदेश की जनता से आह्वान किया है कि 2017 में लखनऊ की गद्दी पर भाजपा का चुनाव हो। आज गोरखपुर में पीएम मोदी के दौरे में फर्टिलाइजर के पुनरोद्धार कार्य और एम्स के निर्माण के कार्य के शिलान्यास के बाद एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने यूपी के बारे में अपनी राय स्पष्ट की। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का भला परिवारवाद, जातिवाद और अपना-पराये के खेल से नहीं होने वाला। उन्होंने गोरखपुर के लोगों से कहा कि वे विकासवाद का न्यौता देने आए हैं। पीएम ने अपील की कि लोग लखनऊ में भी ऐसी सरकार बनायें जो उनके लिए दौड़ने वाली हो।

गोरखपुर में पीएम मोदी

गोरखपुर में पीएम मोदी ने अखिलेश को टारगेट किया

शिलान्यास कार्यक्रम के बाद रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी की अखिलेश यादव सरकार को टार्गेट किया। उन्होंने कहा कि यूपी के आरोग्य के लिए भारत सरकार ने 7 हजार करोड़ रुपये बजट में आवंटित किया है। प्रदेश सरकार के सामने शर्त यह थी कि पैसे खर्च करने के बाद हिसाब दें और बाकी का पैसा ले जाएं। अपने चिर परिचित अंदाज में तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आपके यूपी की सरकार अब तक सिर्फ 2850 करोड़ रुपये ही केंद्र सरकार से ले पाई। उन्होंने प्रदेश की सरकार को ललकारते हुए कहा कि जो सरकार आपके आरोग्य के लिए काम नहीं कर पाई उसे बदलना होगा।

पूर्वी यूपी का करेंगे विकास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के विकास पर चर्चा करते हुए कहा कि सिर्फ पूर्वी भारत के विकास से देश का भला नहीं होने वाला। उन्होंने बताया कि उनके सरकार की प्राथमिकता पूर्वी भारत के विकास की है और पूर्वी भारत में पूर्वी उत्तर प्रदेश का विकास तय है। उन्होंने वे बजट संबंधी वे सभी आंकड़े पेश किये जिनसे यह तथ्य साबित होता है कि सड़क, पर्यटन, स्वास्थ्य और किसानों के विकास के लिए पूर्वी उत्तर प्रदेश में उनकी सरकार ने क्या योगदान दिया है?

गोरखपुर को गैस का वायदा

प्रधानमंत्री ने कहा कि सिर्फ फर्टिलाइजर कारखाने का उद्घाटन नहीं हुआ है। इस कारखाने के लिए जो गैस पाइपलाइन बिछेगी उसे गोरखपुर के हर घर में रसोई गैस के आवश्यकता की पूर्ति होगी। उन्होंने कहा कि गोरखपुर की माताओं और बहनों का आशीर्वाद रहा तो गोरखपुर के हर घर में रसोई का चूल्हा पाइपलाइन की गैस से ही चलेगा। पीएम ने इस बात पर जोर दिया कि गैस पाइपलाइन से पूर्वी उत्तर प्रदेश में ओद्योगिक क्रांति आएगी।

उपलब्धियां गिनाईं

प्रधानमंत्री ने गोरखपुर के रैली के जरिये यूपी को बताया कि किस प्रकार उनके प्रयास से यूरिया की कालाबाजारी बंद हुई, खाद के दाम घटे और किसानों को खाद मिलने लगा। उन्होंने प्रधानमंत्री फसल सुरक्षा योजना का विशेष तौर पर जिक्र किया और यूपी सरकार से अपील की कि वह भी किसानों के हित में बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान करे।

भोजपुरी में की शुरूआत

पीएम नरेंद्र मोदी ने स्थानीय भोजपुरी भाषा में अपने भाषण की शुरूआत की। उनके मुंह से भोजपुरी सुनकर पूरा रैली स्थल तालियों की गड़़गड़ाहट से गूंज उठा। पीएम ने यह कहकर पूर्वी उत्तर प्रदेश के सांसदों का मान बढ़ा दिया कि जनता ने जो सांसद चुनकर भेजे हैं वह उन्हें सोने नहीं देते हैं। उन्होंने इस अंचल के विकास के लिए यहां की जनता, भाजपा सांसद महंत योगी आदित्यनाथ और सांसदों को क्रेडिट दिया।

मंत्रियों ने साधा यूपी सरकार पर निशाना

पीएम मोदी के संबोधन से पहले उनके कैबिनेट के मंत्री पियूष गोयल, जेपी नड्डा, अनंत कुमार, कलराज मिश्रा और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने यूपी सरकार पर विकास न करने के लिए निशाना साधा। कार्यक्रम के दौरान महंत योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी की तुलना भगवान श्रीराम से करते हुए कहा कि उन्होंने पूर्वी उत्तर प्रदेश का ठीक वैसे ही उद्धार किया है जैसे भगवान श्रीराम ने अहिल्या का किया था।

मंच के खास मेहमान

पीएम के मंच पर भाजपा सांसद महंत योगी आदित्यनाथ, कमलेश पासवान, प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री राधेश्याम सिंह, भाजपा के वरिष्ठ सांगठनिक पदाधिकारी, गोरखपुर की महापौर डा. सत्या पाण्डेय भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ भाजपा नेता उपेंद्र दत्त शुक्ल ने किया जबकि आभार ज्ञापन राज्य सभा सदस्य शिव प्रताप शुक्ल ने किया।

loading...
शेयर करें