गोरखपुर हत्याकांड को अब भी है खुलासे का इंतजार

वेद प्रकाश पाठक

गोरखपुर। गोरखपुर हत्याकांड इलाके के पुलिस पर भारी पड़ रहे हैं। लगातार लोगों की हत्याएं की जा रही है और पुलिस कुछ तलाश नहीं पा रही है। विन्ध्यवासिनी नगर के डबल मर्डर और लूटकांड का खुलासा महज 48 घंटे के भीतर कर दिया, लेकिन गोरखपुर में पिछले साल इससे पहले की करीब आधा दर्जन हत्याएं ऐसी हैं जिनके राज से पर्दा न हट सका। सबसे चर्चित गोरखपुर हत्याकांड ‘झरना टोले’ का था।

यहां एक सूबेदार के परिवार के सभी चार सदस्यों की एक साथ हत्या कर दी गई। घटना हुए पांच महीने से ज्यादा का वक्त बीत गया लेकिन अभी तक उस हत्या का सच नहीं पता चल सका। कई बार अखबारी दावे आए कि पुलिस हत्यारों तक पहुंच गई है लेकिन मामला सिर्फ फाइलों तक सिमट गया। गोरखपुर उन हत्याओं के राज के खुलासे का इंतजार कर रहा है।

गोरखपुर हत्याकांड

परिवार के चार लोगों की कर दी हत्या

 

30 जुलाई को झरना टोला में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी गई। मरने वालों में मां, बेटी और दो मासूम थे। इस परिवार के मुखिया फौज में सूबेदार हैं। घटना के बाद पुलिस इस वादे से काम कर रही थी कि हत्यारा कोई जान पहचान का था। इस मामले में कई लोगों ने पूछताछ की गई। एटीएम से निकाले गए पैसे और टेलीफोन डिटेल की पड़ताल भी हुई लेकिन घटना का पर्दाफाश नहीं हो सका। हत्यारा शातिर है या पुलिस सुस्त, पता नहीं लेकिन मामला फाइलों में ही दब गया। एक फौजी का पूरा परिवार खत्म हो गया और इस हत्याकांड में पुलिस हाथ मलती रह गई।

ये मामले भी अनसुलझे रहे

 

1- नवम्बर 2013 में शाहपुर का चर्चित शशिकला तिवारी हत्याकांड

2- फरवरी 2015 में रिटायर बैंक मैनेजर विश्वनाथ मिश्रा हत्याकांड

3– मार्च 2015 का विन्ध्यवासिनी उर्फ बिंदु अग्रवाल हत्याकांड

4- जुलाई 2015 में कारोबारी शिव कुमार केसरवानी हत्याकांड

5- सितम्बर 2015 में सेंट्रल बैंक के मैनेजर दीनानाथ यादव की हत्या

6- नवम्बर 2015 में रिटायर आईएएस की पत्नी शान्ति देवी की हत्या

 

इन मामलों में कार्रवाई का इंतजार

 

1- एक जनवरी को बांसगांव के हरनही में बाइक की लूट

2- दो जनवरी को कौड़ीराम में दो ट्रक चालकों से लूट

3- तीन जनवरी को नौसढ़ में छात्र के अपहरण की कोशिश

4- चार जनवरी को कैंट थानाक्षेत्र में चिकित्सक की बेटी से सिपाही ने की छेड़छाड़

5- पांच जनवरी को डीआईजी आफिस के सामने रमाकांत से हुई लूट

6– छह जनवरी को जंगल धूषण में डेयरी संचालक के घर सात लाख की डकैती

7- सात जनवरी को उरूवा में माइक्रोफाइनेंस कंपनी के कर्मचारी से 62 हजार की लूट

8– आठ जनवरी को चौरीचौरा के अयोध्याचक में डकैती

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button