T-20: एक बार फिर श्रीलंका पर बरसा मैक्सवेल का कहर, इस बार रच डाला इतिहास

0

कोलंबो। ग्लेन मैक्सवेल (66) की तूफानी पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने  दूसरे अंतर्राष्ट्रीय टी-20 मैच में श्रीलंका को चार विकेट से हरा दिया। इसके जीत के  साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने दो मैचों की टी-20 श्रृंखला 2-0 से अपने नाम कर ली। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरीश्रीलंकाई टीम को ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट पर 128 रनों पर समेट दिया।  उसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने मैक्सवेल की रिकॉर्ड विष्फोटक पारी की बदौलत छह विकेट खोकर 13 गेंद शेष रहते लक्ष्य हासिल कर लिया।

ग्लेन मैक्सवेल

ग्लेन मैक्सवेल ने रचा इतिहास, सबसे तेज अर्धशतक लगाने वाले ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बने

श्रीलंका के खिलाफ खेल गए पहले टी-20 मैच में भी ग्लेन मैक्सवेल ने 146 रनों की विस्फोटक पारी खेली थी। लेकिन  शुक्रवार को खेले गए दूसरे टी-20 मैच में मैक्सवेल ने एक नया कीर्तिमान ही रच डाला है। मैक्सवेल ने किसी भी आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज द्वारा अंतर्राष्ट्रीय टी-20 मैच में सबसे तेज अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड बना दिया है।

मैक्सवेल ने मात्र 18 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया। मैक्सवेल के साथ पारी की शुरुआत करते हुए कप्तान डेविड वार्नर (25) ने 93 रनों की साझेदारी निभाई।मैक्सवेल ने 29 गेंदों की छोटी सी पारी में सात चौके और चार छक्के जड़ डाले और टीम को जीत के मुहाने तक पहुंचा दिया।

आस्ट्रेलियाई टीम ने इसके बाद जल्दी-जल्दी कई विकेट गंवा दिए, लेकिन मैक्सवेल ने टीम को लक्ष्य के इतना आसन और नजदीक पहुंचा दिया था कि इन विकेटों के गिरने से भी लक्ष्य हासिल करने  में कोई बाधा नहीं आई।

तिलकरत्ने दिलशान ने खेला आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपना आखिरी मैच खेल रहे दिग्गज बल्लेबाज तिलकरत्ने दिलशान ने दो ओवरों में आठ रन देकर दो विकेट चटकाए, हालांकि बल्लेबाजी में वह कुछ खास नहीं कर सके।

श्रीलंकाई टीम बल्लेबाजी में बिल्कुल बेदम नजर आई। धनंजय डी सिल्वा (62) ने अकेले दम संघर्ष किया और आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर टीम को सम्मानजक स्कोर पर पहुंचा कर लौटे। डी सिल्वा ने 50 गेंदों की अपनी जुझारू पारी में पांच चौके लगाए।

डी सिल्वा के अलावा सिर्फ कुशल परेरा (22) ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके। आस्ट्रेलिया के लिए जेम्स फॉकनर और एडम जाम्पा ने तीन-तीन विकेट हासिल किए, जबकि जॉन हेस्टिंग्स को दो विकेट मिले।

इस बीच अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 497वें मैच के साथ दिलशान ने आखिरी गेंद पर विकेट हासिल करते हुए विदाई ली। दिलशान ने 87 टेस्ट, 330 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय और 79 अंतर्राष्ट्रीय टी-20 मैच खेले, जिसमें उनके नाम कुल 39 शतक और 83 अर्धशतक शामिल हैं।

loading...
शेयर करें