घर की परेशानियों से पाना है छुटकारा, तो मोर के पंख से करें ये उपाय  

मोर पक्षी को भगवान कार्तिके की सवारी मानी जाती है। इस पक्षी को धार्मिक कथाओं में बहुत उपर का दर्जा दिया गया है। मोर के पंख भगवान श्री कृष्ण को बहुत ज्यादा पसंद हैं। आपको बता दें मोर के पंख को हमेशा घर के मंदिर में रखा जाता है। इनका हमारे जीवन में काफी महत्व है। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि मोर पंख से किस तरह हम अपनी परेशानियां दूर कर सकते हैं।

मोर पक्षी

अगर आपके घर में बहुत कष्ट है तो घर के दक्षिण पूर्व दिशा में मोर का पंख लगाने से कष्ट नहीं आता है।

जो लोग सर्प काल दोष से ग्रसित हैं वे लोग सोमवार की रात में अपने तकिए में सात मोर पंख रख दें। अब प्रतिदिन सोते समय इसी तकिए का इस्तेमाल करें।

अगर आपका बच्चा बहुत जिद्दी है तो उसके कमरे में छत वाले पंखें में मोर का पंख लगवा दें। ताकि जब पंखा चले तो उसकी हवा धीरे-धीरे को लगेगी। जिससे कुछ ही दिनों में उसका जिद्दीपन दूर हो जायेगा।

ऐसा कहा जाता है कि मोर और सांप हमेशा से में दुश्मनी रही है। सांप जो है वह शनि और राहु के संयोग से बनता है। ऐसे में मोर पंख को घर के पूर्वी और उत्तर पश्चिम की दीवार पर लगाने से राहु दोष परेशान नहीं करता।

अगर आपके घर में भी छोटा बच्चा है तो एक चांदी की ताबीज में मोर पंख डाल कर रख दें। आपके ऐसा करने से आपका बच्चा डरेगा नहीं और नजर दोष से भी बच जाएगा।

यदि आप अपने शत्रु से बहुत परेशान हैं तो मोर के पंख पर हनुमान जी के मस्तक के सिंदूर से मंगलवार या शनिवार की रात को शत्रु का नाम लिखकर घर के मंदिर में रख दें और सुबह बिना नहाए बहते पानी में बहा दें।

Related Articles