घर वालो ने पत्रकार का शव लेने से किया इनकार, कहा पहले…

गाजियाबाद के विजय नगर इलाके में गोली लगने से घायल पत्रकार विक्रम जोशी की मौत हो गई है. यशोदा अस्पताल में पत्रकार विक्रम जोशी का इलाज चल रहा था. विक्रम जोशी को विजय नगर इलाके में बदमाशों ने घेरकर गोली मारी थी. विक्रम जोशी पर हमला भांज से छेड़छाड़ की शिकायत करने पर बदमाशों ने किया था.

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए विक्रम जोशी के भांजे का कहना है कि कमाल-उ-दीन के बेटे सहित कुछ लड़के मेरी बहन के साथ छेड़छाड़ करते थे. मेरे मामा घर आ रहे थे, जब कमाल-उ-दीन के बेटे ने उन पर हमला किया और उन्हें गोली मार दी. मुख्य आरोपी के पकड़े जाने तक हम अपने मामा के पार्थिव शरीर को नहीं लेंगे.

एएनआई से बात करते हुए विक्रम जोशी के भांजे ने कहा कि मेरा घर माता कॉलोनी में है. मेरी बहन पर ये लोग कमेंट करते थे. मेरे मामा ने विरोध किया. इसके बाद कमाल-उल-दीन के लड़के ने मेरे मामा के सिर में गोली मारी है. मामा मेरी बहन के बर्थडे को सेलिब्रेट करने आ रहे थे और बीच में ही बदमाशों ने घेरकर गोली मार दी.

विक्रम जोशी के भांजे ने कहा कि पहले मेरे मामा को 15-20 बदमाशों ने बहुत मारा, फिर गोली मार दी. हम जबतक पहुंचते, तबतक काफी देर हो चुकी थी. हम तो अब इंसाफ चाहते हैं. हमें कमाल-उ-दीन का लड़का चाहिए. पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए भांजे ने कहा कि हमने शिकायत की थी, लेकिन किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की.

अब तक 9 आरोपी गिरफ्तार

गाजियाबाद पुलिस ने रवि, छोटू, मोहित, दलवीर, आकाश, योगेंद्र, अभिषेक हलका, अभिषेक मोटा और शाकिर को गिरफ्तार कर लिया है. इसके अलावा बाकी आरोपियों की तलाश के लिए 6 टीमें बनाई गई हैं. पुलिस को नामजद अभियुक्त आकाश बिहारी की तलाश है. जगह-जगह छापेमारी की जा रही है.

प्रताप विहार चौकी इंचार्ज सस्पेंड

पत्रकार विक्रम जोशी के परिवारवालों ने प्रताप विहार चौकी इंचार्ज राघवेंद्र पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है. इसके बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने चौकी इंचार्ज राघवेंद्र को सस्पेंड कर दिया है. साथ ही पूरे मामले की जांच क्षेत्राधिकारी प्रथम को सौंप दी गई है.

Related Articles